5 करोड़ की जमीन से हटाया अतिक्रमण…

JCB से मंदिर की दीवार तोड़ने पर कांग्रेस नेता और पुलिस में हुई झड़प

ग्वालियर में कुछ समय पहले अतिक्रमण से मुक्त कराई गई 5 करोड़ रुपए की जमीन को समतल कराने पहुंची जिला प्रशासन और पुलिस की टीम से स्थानीय लोगों ने झूमाझटकी कर दी। लोग मंदिर की दीवार तोड़ने से आक्रोशित थे। मंदिर में तोड़फोड़ की कार्रवाई के विरोध में कांग्रेस नेता वीर सिंह तोमर वहां पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें हटाने के लिए पीछे धकेला। इस दौरान कांग्रेस नेता और बहोड़ापुर थाना पुलिस के बीच में झड़प और झूमा झटकी हुई। बाद में पुलिस ने सभी को पीछे खदेड़ दिया। तत्काल JCB मशीन से मंदिर की दीवार को तोड़ दिया गया। इस दौरान आक्रोशित ने भाजपा मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। 

ग्वालियर सर्कल के बहोड़ापुर स्थित लक्ष्मण तलैया इलाके में हनुमान मंदिर के पास सरकारी जमीन सर्वे क्रमांक 741 की 14 हजार वर्गफीट जमीन जिसकी अनुमानित कीमत 5 से 6 करोड़ रुपए है।  इस जमीन पर भू माफियाओं के द्वारा सालो पहले कब्जा कर नासिर खान नाम के मैकेनिक को कार गैराज खुलवा दिया था। कुछ दिन पहले जब इस बात की जानकारी SDM प्रदीप तोमर को लगी तो वह अपनी टीम के साथ मौके पर जा पहुंचे। उस समय कार गैराज संचालक नासिर को अतिक्रमण हटाने का नोटिस देकर गैराज को सील कर सरकारी जमीन को अपने कब्जे में ले लिया था। सोमवार को कब्जे में ली गई जमीन को समतल कराने के लिए जिला प्रशासन की टीम बहोड़ापुर थाना पुलिस को लेकर पहुंची थी। नगर निगम के मदाखलत अमले ने जैसे ही JCB मशीन से जमीन के चारों ओर बनी दीवार को तोड़ना शुरू किया तो वहां कांग्रेस नेता वीर सिंह तोमर अपने समर्थकों के साथ आ पहुंचे। जहां उन्होंने अतिक्रमण का विरोध करते हुए हंगामा खड़ा कर दिया। 

हंगामे के दौरान पुलिस बल के साथ हंगामा कर रहे लोगों ने झूमा झटकी तक कर दी। हंगामा कर रहे लोगो का आरोप था कि प्रशासन के द्वारा मंदिर की बाउंड्री को तोड़ा गया है। फिलहाल प्रशासनिक अधिकारियों ने हंगामा कर रहे लोगों को शांत कर अपनी कार्रवाई को पूरा किया। कार्रवाई के दौरान SDM ग्वालियर प्रदीप सिंह तोमर ने दैनिक भास्कर को बताया कि कुछ दिनों पहले सर्वे क्रमांक 741 की शासकीय जमीन से अतिक्रमण को मुक्त कराने के बाद कब्जे में लिया गया था। सोमवार को उस जमीन को समतल कराने के लिए आए हुए थे। लोगों ने हंगामा किया है, लेकिन कार्रवाई पूरी की गई है। इस जमीन पर नासिर खान नाम के व्यक्ति ने कार गैराज खोल लिया था।