चलिए जानते हैं उनके बारे में...

भारत के अलावा ये देश भी आज के दिन मनाते हैं अपनी आजादी का जश्न

भारत आज अपनी आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है. पीएम मोदी ने लाल क़िले पर झंडा फहराने के बाद देश के नाम अपने संबोधन में कई बड़े ऐलान किए. क्या आप उन 5 देशों के बारे में भी जानते हैं जो भारत की ही तरह 15 अगस्त के दिन आजाद हुए थे और इसी दिन अपनी आजादी का जश्न मनाते हैं? चलिए जानते हैं उनके बारे में...

भारत - 15 अगस्त, 1947 के दिन भारत अंग्रेजों की गुलामी से करीब 200 वर्षों बाद आजाद हुआ था, और दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के रूप में सामने आया. यह दिन भारतीय इतिहास में एक महत्वपूर्ण दिन माना जाता है. इस दिन देश के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से राष्ट्र को संबोधित करते हैं और ध्वजारोहण करते हैं. 

बहरीन - दिलमुन सभ्यता की प्राचीन भूमि बहरीन ने 15 अगस्त 1971 को ब्रिटिश शासकों से लड़कर स्वतंत्रता प्राप्त की थी. 19वीं सदी में ब्रिटिश शासन से पहले भी बहरीन पर अरब और पुर्तगाल सहित कई देशों ने राज किया था.

द डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो - डेमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कांगो ने भी 15 अगस्त 1960 के ही दिन फ्रांसीसी शासकों से पूरी तरह स्वतंत्रता प्राप्त की थी. यह देश मध्य अफ्रीकी क्षेत्र में आता है. 1880 में फ्रांसीसी शासकों ने इसे गुलाम बना लिया. पहले यह देश फ्रांसीसी कांगो के रूप में जाना गया, फिर 1903 में मध्य कांगो के रूप में जाना गया. आजादी के बाद  'फुलबर्ट यूलू' देश के पहले राष्ट्रपति बने और 1963 तक शासन किया.

नॉर्थ कोरिया और साउथ कोरिया - नॉर्थ कोरिया और साउथ कोरिया दोनों ही कोरियन देश 15 अगस्त को अपनी आजादी का दिन मनाते हैं. हर साल, 15 अगस्त को दोनों देशों में छुट्टी रहती है और इसे 'जापान से स्वतंत्रता' वाले दिन के रूप में मनाया जाता है. साल 1945 में अमेरिका और सोवियत सेना ने मिलकर कोरिया पर 35 साल पुराने जापानी कब्जे को खत्म कर दिया था और इसे स्वतंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया था. 1945 में इसी दिन द्वितीय विश्व युद्ध खत्म हुआ था. इसके बाद 1948 में कोरिया सोवियत समर्थित उत्तर और अमेरिका समर्थित दक्षिण के बीच बंट गया. दक्षिण कोरिया को ऑफिशियल तौर पर कोरिया रिपब्लिक के रूप में माना जाता है.

लिस्टेंस्टीन - दुनिया के सबसे छोटे देशों में से एक लिस्टेंस्टीन ने वर्ष 1866 में जर्मन शासकों से स्वतंत्रता प्राप्त की थी. लेकिन नेशनल डे 15 अगस्त को मनाना 1940 से शुरू किया गया. इस दिन पूरे देश में छुट्टी रहती है. 5 अगस्त 1940 को, लिस्टेंस्टीन की रियासत की सरकार ने ऑफिशियल तौर पर 15 अगस्त को देश का राष्ट्रीय दिवस घोषित किया.