33 हजार 496 परिवारों को 16 हजार 159.5 क्विंटल खाद्यान्न वितरित…

चंबल संभाग में 33,496 बाढ़ प्रभावितों को  21,33,19000 रूपये से अधिक की सहायता

मुरैना। अगस्त-2021 के प्रथम सप्ताह में चंबल संभाग के मुरैना, भिण्ड और श्योपुर जिले में हुई अतिवर्षा और चंबल तथा क्वारी नदी में आई बाढ़ से प्रभावित 33 हजार 496 बाढ़ पीड़ितों को अब तक 21 करोड़ 33 लाख 19 हजार रूपये से अधिक की राहत राशि उनके बैंक खातों में जमा करायी गई है। चंबल संभाग के तीनों जिलों के 32 हजार 319 परिवारों को 16 हजार 159.5 क्विंटल खाद्यान्न का वितरण भी किया गया है। चंबल संभाग के कमिश्नर आशीष सक्सेना ने बताया कि संभाग में बाढ़ से 13 लोगों की हुई मृत्यु पर उनके वारिश परिवारों को 4-4 लाख रूपये के मान से 52 लाख रूपये की राहत राशि उनके बैंक खातों में डाली गई है। 

इसी प्रकार 83 लोगों के यहां हुई पशुहानि पर उन्हें 17 लाख 65 हजार रूपये की राशि दी गई है। तीनों जिलों के 32 हजार 319 परिवारों को 16 हजार 159.5 क्विंटल खाद्यान्न का वितरण किया गया है। उन्होंने कहा कि ऐसे 23 हजार 333 परिवार जिनके बाढ़ में कपडे़, बर्तन, खाद्यान्न नष्ट हुआ था, उन्हें प्रति परिवार 5-5 हजार रूपये के मान से 11 करोड़ 65 लाख 87 हजार रूपये की राशि उनके बैंक खातों में डाली गई है। मुरैना, भिण्ड और श्योपुर जिले के 1 हजार 443 परिवार के पक्के मकान जिन्हें आंशिक क्षति पहुंची है, उन परिवारों को 59 लाख 15 हजार 400 रूपये, जिन 3 हजार 739 परिवारों के कच्चे मकानों में आंशिक क्षति पहुंची है, उन परिवारों को 1 करोड़ 53 लाख 7 हजार 100 रूपये और जिन परिवारों के मकान पूरी तरह से नष्ट हुये है, व मरम्मत योग्य नहीं है। 

ऐसे परिवारों को फिलहाल प्रति परिवार 6-6 हजार रूपये के मान से 7 करोड़ 33 लाख 14 हजार 700 रूपये की राशि उनके खातों में डाली गई है। ऐसे परिवार जिनके मकान पूरी तरह से नष्ट हुये है, उन्हें 95 हजार 100 रूपये देने का प्रावधान है अथवा उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना से लाभान्वित किया जायेगा। यह संपूर्ण राहत राशि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के बाढ़ प्रभावितों से चिंतित होने की दशा में उनके द्वारा तत्परता से वितरित करायी गई है। कमिश्नर श्री सक्सेना ने कहा कि यह कहना बिल्कुल गलत होगा कि बाढ़ पीड़ितों को मदद नहीं दी गई है। उन्होंने कहा कि सर्वाधिक मदद श्योपुर जिले के 43 हजार 297 प्रभावित परिवारों में से अत्याधिक 23 हजार 460 परिवारों को 17 करोड़ 49 लाख 54 हजार 600 रूपये की राशि उनके खातों में जमा करायी गई है। 

श्योपुर जिले में बाढ़ से हुई 9 लोगों की मृत्यु पर उनके परिजनों को 36 लाख रूपये, 51 प्रभावित परिवारों के यहां हुई पशुहानि पर 11 लाख 26 हजार रूपये, 17 हजार 811 परिवारों के वर्तन, कपड़े और खाद्यान्न नष्ट होने पर उन्हें 8 करोड़ 90 लाख 55 हजार रूपये की राशि उनके खातों में डाली गई है। 250 लोगों के पक्के मकान आंशिक रूप से क्षति होने पर उन्हें 13 लाख 54 हजार 100 रूपये, 3 हजार 135 परिवारों के कच्चे मकानों में आंशिक क्षति होने पर उन्हें 87 लाख 12 हजार 800 रूपये का वितरण उनके खातों में किया गया है। श्योपुर जिले में 19 हजार 874 बाढ़ पीड़ितों को 9 हजार 937 क्विंटल खाद्यान्न का वितरण किया गया है। मुरैना जिले में 2 हजार 278 प्रभावित लोगों को शतप्रतिशत राहत राशि का वितरण किया गया है। इन परिवारों को 1 करोड़ 30 लाख 77 हजार 100 रूपये उनके बैंक खातों में डाले गये है।