राज्यों से तुरंत वैक्सीन खरीदने का अनुरोध…

अब भारत में ही यूज होंगी ब्रिटेन भेजे जाने वाली 50 लाख 'कोविशील्ड'

नई दिल्ली। ब्रिटेन भेजे जाने वाली 'कोविशिल्ड' वैक्सीन की 50 लाख डोज का इस्तेमाल अब भारत में ही किया जाएगा. ये डोज देश के 21 राज्यों या केंद्र शासित प्रदेशों में 18-44 उम्र के लोगों के लिए उपलब्ध कराने का निर्णय किया गया है. इन डोज को पहले सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा ब्रिटेन भेजा जाना था. केंद्र सरकार का इन डोज को 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को आवंटित करने का यह फैसला ऐसे समय आया है जब पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में डायरेक्टर (सरकार एवं नियामक मामलों) प्रकाश कुमार सिंह ने हाल में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को पत्र लिखकर इसके लिए अनुमति मांगी थी. 

सीरम इंस्टीट्यूट ने 23 मार्च को मंत्रालय से कोविशील्ड की 50 लाख खुराक की आपूर्ति ब्रिटेन को करने की अनुमति मांगी थी. सीरम इंस्टीट्यूट ने इस संबंध में एस्ट्राजेनेका के साथ एक समझौते का हवाला दिया था और भारत को भरोसा दिया था कि इस आपूर्ति से उसका कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण कार्यक्रम प्रभावित नहीं होगा. मंत्रालय ने राज्यों से कंपनी से संपर्क करने और खरीद गतिविधि को तुरंत शुरू करने के लिए कहा है. 

कुछ राज्यों को 3,50,000 खुराकें आवंटित की गई हैं. अन्य को 1-1 लाख खुराकें मिली हैं और दो अन्य को 50-50 हजार खुराकें मिली हैं. इन टीकों पर कोविशील्ड नहीं बल्कि ‘कोविड-19 वैक्सीन एस्ट्राजेनेका’ का लेबल लगाया गया है. भारत में अब हर दिन चार लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस सामने आ रहे हैं. देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 2 करोड़ 18 लाख हो गए, जबकि 24 घंटे के भीतर चार हजार से ज्यादा मरीजों की मौत होने से मृतक संख्या बढ़कर 2 लाख 38 हो गई.