जिले में महाटीकाकरण अभियान को सफल बनाने…

कलेक्टर श्री सिंह ने शहरवासियों से की टीकाकरण कराने अपील

ग्वालियर। कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के साथ-साथ महा टीकाकरण अभियान के तहत 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के नागरिकों को कोविड-19 से बचाव हेतु टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। जिले में 146 केन्द्रों पर टीकाकरण के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिये सभी का टीकाकरण आवश्यक है। कोविड गाइडलाइन के अनुसार अभी जिन चिन्हित लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है वे सभी लोग केन्द्र पर पहुँचकर अपना टीकाकरण कराएँ। कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले में महाटीकाकरण अभियान को सफल बनाने के लिये केन्द्रों पर पुख्ता प्रबंध करने के साथ-साथ शहरी क्षेत्र में जिला स्तरीय अधिकारियों को एक-एक वार्ड की जिम्मेदारी सौंपते हुए अपनी-अपनी टीम के साथ जन जागरूकता कार्य करने के निर्देश भी प्रसारित किए हैं। 

प्रभारी अधिकारी अपने-अपने वार्डों में जन जागरूकता का कार्य भी कर रहे हैं। इसके साथ ही सामाजिक संस्थाओं, धार्मिक संस्थाओं, प्रबुद्ध नागरिकों के माध्यम से भी जन जागृति कर अधिक से अधिक टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने टीकाकरण के साथ-साथ कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिये भी इंसीडेंट कमाण्डरों के नेतृत्व में दल गठित कर प्रभावी कार्रवाई की जा रही है। मोहल्ला समितियों के सदस्यों का सहयोग लेकर भी संक्रमण की रोकथाम और टीकाकरण के कार्य को तेजी के साथ किया जा रहा है। कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के माध्यम से भी लोगों को स्वास्थ्य केन्द्रों में भर्ती कराने के साथ-साथ होम क्वारंटाइन करने का कार्य जिले में प्राथमिकता से किया जा रहा है। होम क्वारंटाइन लोगों की मॉनीटरिंग और उन्हें दवा उपलब्ध कराने के लिये भी दल गठित कर कार्रवाई की जा रही है। 

कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के सभी निवासियों से अपील की है कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सावधानी बरतें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से न निकलें। घर से निकलते समय मास्क अनिवार्य रूप से पहनें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और अपने हाथों को नियमित रूप से सेनेटाइज करते रहें। उन्होंने यह भी अपील की है कि किसी भी व्यक्ति को कोविड के कोई भी लक्षण दिखाई दें तो वे तत्काल अपने निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र पर पहुँचकर चिकित्सक से अपनी जाँच अवश्य कराए। उन्होंने आम नागरिकों से यह भी कहा है कि कोविड से घबराने की जरूरत नहीं है लेकिन सावधानी बहुत जरूरी है। सभी के प्रयासों से ही कोविड-19 के संक्रमण पर नियंत्रण किया जा सकेगा।