शादियों पर कोरोना का साया…

'बैंड-बाजा-बारात' को नहीं मिली मंजूरी !

ग्वालियर। कोरोना वायरस के कहर का असर अब शादी-विवाहों में भी दिखने लगा है। हिंदू समुदाय में लम्बे अंतराल के बाद वैवाहिक मुहूर्त सोमवार से शुरू होने वाले हफ्ते से प्रारंभ होने जा रहा है। मगर कोरोना महामारी के घातक प्रकोप के कारण मध्य प्रदेश के ग्वालियर में प्रशासन ने फिलहाल विवाह समारोहों को मंजूरी देने से इनकार कर दिया है। 

नतीजतन सैकड़ों शादियां टल गई हैं और लोगों की 'बैंड-बाजा-बारात' की योजना धरी की धरी रह गई है। कोविड-19 के प्रकोप को देखते हुए हम अभी जिले में शादी समारोहों को अनुमति नहीं दे सकते। हमें आम लोगों की सेहत की चिंता है।' 

गौरतलब है कि महामारी की ऊंची संक्रमण दर के मद्देनजर प्रशासन ने शनिवार को ही फैसला किया कि  के नगरीय क्षेत्रों में 15 अप्रैल से जारी कोरोना कर्फ्यू 22 अप्रैल तक बरकरार रहेगा। होटल और मैरिज गार्डन शदियों के लिए बुक थे। कलेक्टर ने करीव ६६ आबेदन निरस्त कर दिय हैं .५० लोगों के शामिल होने की अनुमति हे। इस कारण कई शदियां भी आगे बढ़ गई हैं या फिर लोग कोविद नियमों के तहत विबाह कर रहे हैं।