क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में लिया गया निर्णय…

संक्रमण की रोकथाम और टीकाकरण में सभी करें सहयोग : श्री सिंह

ग्वालियर। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिये शासन-प्रशासन के प्रयासों के साथ-साथ समाज के हर वर्ग का सहयोग जरूरी है। सभी के प्रयास से ही संक्रमण की रोकथाम और महाटीकाकरण अभियान को पूरा किया जा सकेगा। सामाजिक, धार्मिक संस्थाओं के साथ-साथ प्रबुद्ध नागरिक भी जन जागृति के कार्य में अपनी महती भूमिका अदा करें। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय में आयोजित क्राइसेस मैनेजमेंट की बैठक में यह बात कही गई। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में सभी से आग्रह किया कि कोविड संक्रमण की रोकथाम के लिये क्राइसेस मैनेजमेंट के सभी सदस्य अपने-अपने स्तर से कोरोना योद्धा के रूप में अपनी सक्रिय भागीदारी निभायें। 

समाज में सभी को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने और घर से बाहर निकलते समय मास्क का उपयोग अनिवार्यत: करने की अपील करें। उन्होंने बैठक में यह भी अपील की कि सभी धर्मों के प्रार्थना स्थलों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो, यह भी धर्मगुरू अपने स्तर से प्रबंधन करें। पूजा स्थलों पर निर्धारित संख्या से अधिक लोग एक समय में न जाएँ और जो जाएँ वह लोग भी मास्क अवश्य पहनें, इसका भी प्रबंधन किया जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने यह भी अपील की कि कोविड की रोकथाम के लिये लगाए जा रहे टीकाकरण अभियान में भी सभी लोग सहयोग करें। 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग निर्धारित केन्द्रों पर पहुँचकर टीकाकरण कराएँ, इसकी अपील भी जनप्रतिनिधि, सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि और धर्मगुरू अपने स्तर से करें, ताकि अधिक से अधिक लोग टीकाकरण करा सकें। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिये प्रशासन स्तर से हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। 

सभी को बेहतर स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध हों, इसके लिये शासकीय चिकित्सालयों के साथ-साथ निजी चिकित्सालयों से भी संपर्क कर व्यवस्थायें पुख्ता की गई हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से प्रभावित अधिकतर लोग होम क्वारंटाइन होकर उपचार करा रहे हैं। ऐसे लोगों को भी समय पर दवा उपलब्ध हो, इसकी व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है। बैठक में यह भी तय किया गया कि प्रति रविवार लॉकडाउन को देखते हुए व्यवसायिक प्रतिष्ठान साप्ताहिक अवकाश के दिन दुकानें खोल सकेंगे। सप्ताह में एक दिन रविवार को ही सम्पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। बैठक में विभिन्न धर्मों के धर्मगुरूओं ने भी धर्मस्थलों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने की बात कही। इसके साथ ही सभी लोगों को मास्क पहनकर ही धर्मस्थलों पर प्रवेश दिया जाए, इस पर सहमति जताई।