शिकायत करने पर ग्राहक को धमकाया…

मुनाफाखोर ने बेसन की जगह थमाया मक्के आटा 

ग्वालियर। ग्वालियर के दाल बाजार तिराहा और नया बाजार में स्थित इस किराने और थोक के अनाज की दुकान के लॉक डाउन अवधि में खुले होने पर स्थानीय निवासियों ने कोरोनावायरस का हवाला देते हुए दुकान को बंद करने की सलाह दी तो दुकान के बुजुर्ग संचालक भड़क उठे। 

उन्होंने अपने बेटा ,बेटियों के डॉक्टर इंजीनियर और एमबीए होने का हवाला देते हुए यह कहना शुरू कर दिया कि उनके भी बहुत से आईएएस और आईपीएस लोगों से संपर्क हैं। किराना गेहूं और साबुत अनाज के थोक विक्रेता के रूप में यह दुकान मैसर्स राहुल ट्रेडिंग कंपनी, नया बाजार लश्कर, के नाम से संचालित है। 

कुछ ग्राहकों ने यहां बेसन के मिलावटी होने और बेसन के नाम पर मिलावटी मक्के का आटा देने की शिकायत की थी। जिस पर दुकान संचालक भड़क गए। आटे में भी मिलावट की शिकायतें इस दुकान पर हैं। बुजुर्ग व्यापारी ने स्थानीय निवासियों को धमकी देते हुए कहा कि उनकी किराने की दुकान पर सामान लेने कई आईएएस और आईपीएस अधिकारी भी आते हैं। 

अगर उनके खिलाफ कोई कार्रवाई होती है तो उनका कोई कुछ नहीं बिगाड़ पाएगा। किराना व्यापारी का ये अहम भरा बयान आप खुद ही सुन लीजिए। गौरतलब है कि जिला प्रशासन ने कोराना कर्फ्यू और लॉक डाउन के दौरान केवल आवश्यक सेवा के लिए मेडिकल स्टोर सहित कुछ अन्य सामान्य की निर्धारित समय में बिक्री की छूट दी है।