कांग्रेस से चुनाव लड़ भाजपा में शामिल हुए…

श्री गोयल ने पूर्व विधानसभा में हुए विकास कार्यों की दी जानकारी

ग्वालियर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान के नेतृत्व में बनी प्रदेश सरकार ने बीते 1 साल में कोरोना महामारी के संकट से प्रदेश को बचाने और डेढ़ वर्ष के कांग्रेस सरकार के कुशासन से प्रदेश की जनता को राहत देते हुए जनकल्याण और विकास के ऐतिहासिक कार्य किए हैं जहां एक ओर कांग्रेस कमलनाथ सरकार प्रदेश में आर्थिक संकट की बात कहकर गरीबों, बेटियों, किसान, छात्रों के कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया वहीं प्रदेश को आर्थिक संकट से मुक्त कराकर शिवराज सिंह चौहान ने 1 वर्ष के कार्यकाल में जनसेवा विकास किसान कल्याण और सुशासन की नयी इबारत लिखी गयी। 

यह बात आज ग्वालियर पूर्व के पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल ने जीवाजी क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में कही। इस अवसर जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी, प्रदेश मीडिया पैनलिस्ट आशीष अग्रवाल, संभागीय मीडिया प्रभारी पवन कुमार सेन और पूर्व विधानसभा के तीनो मण्डल अध्यक्ष उपस्थित रहे। इस अवसर पर गोयल ने बताया कि पिछले 1 वर्ष में प्रदेष के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के नेतृत्व में सरकार ने ये साबित कर दिया कि भाजपा जो कहती है वह करती है। 

इस सरकार ने प्रदेश के सर्वांगीण विकास से लेकर किसानों, गरीबों, एवं सर्वहारा वर्ग के जनकल्याण के लिये काम करते हुए जनता के बीच अपना विश्वास कायम किया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनता का जनादेश स्वीकार करते हुए जनता के बीच अपने जनसेवा के लक्ष्य को पूरा करना चाहिये उन्होंने कहा कि क्षेत्र की जनता से मेरा रिश्ता वोटों का नहीं, बल्कि क्षेत्र के विकास एवं जनता के सुःख दुख का है यह रिश्ता हमेशा कायम रहेगा। प्रदेश की भाजपा सरकार के कुशल नेतृत्व में 16 ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में 139.81 के विकास कार्य हुए हैं इसके अलावा कई महत्वपूर्ण कार्य हुए हैं जो इस प्रकार है:-

  • डी.आर.डी.ओ लेब का महाराजपुरा स्थानांतरण।
  • दीनदयाल नगर विद्युत जोन का विभक्तिकरण।
  • लम्बे समय से जीर्ण शीर्ण सड़क हुरावली से मोहनपुर तक 3 करोड़ की लागत से निर्माण
  • दीनदयाल नगर में 2.86 करोड़ की लागत से 30 बिस्तरीय अस्पताल का निर्माण।
  • दीनदयाल नगर में 50 लाख की लागत से नवीन श्मसान का निर्माण।
  • जिला चिकित्सालय प्रसूतिगृह में 3.34 करोड़ की लागत से 100 बिस्तरीय मेटरनिटी विंग का निर्माण।
  • विधानसभा क्षेत्र में 43 अवैध काॅलोनियों में 7.5 करोड़ की लागत से विद्युतीकरण कार्य।
  • विधानसभा क्षेत्र के 332 गरीब परिवारों को पट्टों का वितरण।
  • स्मार्ट सिटी फण्ड से 3.35 करोड़ की लागत से एम.एल.बी. काॅलेज में खेल मैदान का निर्माण।
  • 345 वृद्ध दिव्यांगों को पेंशन वितरण।
  • 372 गरीब परिवारों को बी.पी.एल कार्ड वितरण।
  • विधानसभा क्षेत्र में राष्ट्रीय महापुरूषों की प्रतिमाएं जिसमें सम्राट मिहिर भोज की प्रतिमा चिरवाई नाके पर, शहीद उधम सिंह की प्रतिमा सूर्य नमस्कार चौराहे पर, संत शिरोमणि महाराज की प्रतिमा गुड़ा-गुड़ी तिराहे पर, भगवान परशुराम का प्रतीक चिन्ह यूनिवसिर्टी चौराहे पर।
  • प्राकृतिक आपदा से पीढ़ित परिवारों को 72 लाख रूपये की मदद।
  • मुरार नदी पुल चैड़ीकरण के लिये 4 करोड़ की राशि की स्वीकृति।
  • कोरोना काल में 30 हजार परिवारों को खाद्यान्न सामग्री, मास्क, सेनिटाईजर का वितरण किया गया। 
  • इसके अलावा प्रदेश सरकार में 16 ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के कई महत्वपूर्ण कार्य के प्रस्ताव स्वीकृति की प्रक्रिया में हैं।
  • महलगांव हरिशंकरपुरम रेल्वे अन्डरब्रिज पुलिया का चैड़ीकरण - 7.5 करोड़ 
  • वी.आई.पी. गेस्ट हाउस मुरार जड़ेरूआ होते हुए महाराजपुरा हवाई अड़डे तक सड़क निर्माण-60 करोड़ 
  • जिला चिकित्सालय में 300 अतिरिक्त बेड की व्यवस्था - 6 करोड़ 
  • थाटीपुर डिस्पेंसरी का उन्नयन कर 30 बिस्तरीय अस्पताल का निर्माण - 3 करोड़
  • हुरावली स्थित निगम की शासकीय भूमि पर राष्ट्रीय स्तर का स्पोर्टस काम्पलेक्स एवं खेल मैदान का निर्माण- 15 करोड़
  • विधानसभा क्षेत्र में संचालित दुग्ध डेयरियों की शिफ्टिंग के लिये ग्वाला नगर का निर्माण      - 10 करोड़ 
  • हुरावली नेशनल हाईवे रोड से मुरार नदी होते हुए महाराजपुरा एयरपोर्ट तक फ्लाईओवर का निर्माण - 200 करोड़
  • गोले का मंदिर स्थित मार्क हाॅस्पीटल की शासकीय भूमि पर दिल्ली की तर्ज पर अपोलो, गंगाराम, मेदान्ता जैसे बड़े अस्पताल का निर्माण।