पड़ोसी राज्यों में कोरोना की स्थिति भयानक है…

सख्त फैसले लेने की जरूरत पड़ी तो वो भी लेंगे : शिवराज

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह आज रात को राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर अधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक करेंगे। इस बैठक में कुछ अहम और कड़े फैसले लिए जा सकते है इस बारे में बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा मेरे दो संदेश है। प्रदेशवासियों को डरने की जरूरत नहीं है सावधानी की जरूरत है। 

जिन 10 जिलों में 10 बजे दुकानें बंद होनी है मतलब बंद होनी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने आगे कहा कि वह आज शाम को कुछ जरूरी फैसले लेंगे और सख्त फैसले लेने की जरूरत पड़ी तो भी लेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि पड़ोसी राज्यों में कोरोना की स्थिति भयानक है। 1 अप्रैल से प्राइमरी स्कूल खोले जाएं या नहीं इस पर पुनः विचार किया जाएगा। 

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरेाना के हाला भयावह है और बीते दिन अकेले महाराष्ट्र में 23000 कोरोना संक्रमितों की पुष्टि हुई और मप्र के कई जिले महाराष्ट्र से लगते है ऐसे में मुख्यमंत्री आज शाम होने वाली बैठक में कुछ महत्वपूर्ण फैसले कर सकते है। दूसरी ओर स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने बातचीत में कहा कि कोरोना के मामले बढ़ रहे है यह चिंता का विषय है। 

सरकार टेस्टिंग और वैक्सीनेशन की रफ्तार बढ़ा रही है। सीएम आज कोरोना को लेकर करेंगे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कलेक्टर्स, कमिश्नर, सीएमएचओ, मेडिकल कॉलेज के डीन के साथ बैठक करेंगे। माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर अभी फैसला नहीं किया गया है। लोगों को ज्यादा परेशानी ना हो व्यवसायिक गतिविधियां न रूकें इसका भी ख्याल रखा जाएगा।