केन्द्रीय मंत्री शाह और तोमर वर्चुअली होंगे शामिल…

कोरोना काल में 1562 करोड की लागत से बने मकानों में सवा लाख परिवारों का गृह प्रवेश 18 को

भोपाल। प्रदेश के सवा लाख परिवारों को 18 मार्च को कोरोना काल में 1562 करोड की लागत से बने प्रधानमंत्री आवास की सौगात दी जाएगी। इन परिवारों को गृह प्रवेश कराया जाएगा। इतनी बडी संख्या में लोगों के गृह प्रवेश का प्रदेश में यह दूसरा बडा कार्यक्रम होगा। इससे पहले 12 सितंबर को प्रदेश के एक लाख 75 हजार परिवारों का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उपस्थिति में गृह प्रवेश कराया जा चुका है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान धार जिला मुख्यालय में उदय रंजन क्लब परिसर में प्रातः 11 बजे लोगों को यह सौगात देंगे। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मिशन ग्रामोदय के तहत लोगों को यह सौगात मिल रही है। इस अवसर पर प्रदेश में दस हजार से अधिक सामुदायिक निर्माण कार्यों का लोकार्पण भी किया जाएगा। साथ ही ग्रामीण विकास विभाग के साढ़े 10 हजार से अधिक सामुदायिक निर्माण कार्यों का लोकार्पण भी होगा। इनमें 6 हजार सामुदायिक स्वच्छता परिसरए 2 हजार खेल मैदानए 2 हजार शांति धाम और 634 पंचायत भवन शामिल हैं। मिशन ग्रामोदय के इस कार्यक्रम में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह और ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर वर्चुअली शामिल होंगे। कार्यक्रम में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया और राज्य मंत्री रामखेलावन पटेल भी शामिल होंगे। 

प्रधानमंत्री मंत्री नरेन्द्र मोदी ने सन 2022 तक देश के सभी आवासहीन परिवारों को आवास उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित किया है। श्सबको आवास 2022श् का लक्ष्य हासिल करने के लिये मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लागू की गई है। इस महत्वाकांक्षी योजना में मध्यप्रदेश के लगभग 18 लाख 48 हजार ग्रामीण परिवारों को अपना घर मिल चुका है। यह सभी ऐसे परिवार थेए जिनके पास घर नहीं थे अथवा कच्चे जीर्ण.शीर्ण घरों में रहते थे।मध्यप्रदेश में कोरोना काल की चुनौतियों से निपटते हुए 3 लाख से अधिक आवास निर्मित किये गये हैं।