संयुक्त कार्यवाही करते हुए...

मुरार SDM ने 2 करोड़ की सरकारी जमीन को अतिक्रमण से कराया मुक्त

ग्वालियर। एटीमाफिया अभियान के तहत सरकारी जमीन पर कब्जा कर मकान बनाने वालों पर बुधवार की दोपहर जिला प्रशासन, नगरनिगम और पुलिस ने संयुक्त कार्यवाही करते हुए 1 करोड़ 20 लाख रूपये की जमीन मुक्त कराने के साथ साथ 7 मकानों को तोड़ा गया है यह कार्यवाही महाराजपुरा इलाके साहनपुर गांव मे सर्वे नबर 94 की सरकारी जमीन को मुक्त कराया गया हैं। एसडीएम मुरार पुष्पा पुषाम ने बताया सरकारी जमीन पार की भूमि को समतल कर अतिक्रमण कर मकान निमाण खण्डों की नींव भरकर एवं तार फैसिंग कर एवं पार्क आदि बना लिया था। जिसे आज हटाने की कार्यवाही की गयी। 

भूमि पर अतिक्रमण करने वाले भूमाफिया सत्यभानसिंह गुर्जर निवासी मुरैना, बेतालसिंह भैंसोरा, मंगलसिंह, बंटी, योगेन्द्र गुर्जर, देवेन्द्र गुर्जर आदि यह सभी मुरैना के निवासी बताये गये। इस भूमि की कीमत 2 करोड 2 लाख रूपये आंकी गयी है। अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही करने तहसीलदार नवनीत शर्मा, आरआई अशोक तोमर, दिलीप दरोगा, पटवारी हरिमोहन राजपूत, अरबिंद गोयल, ज्ञानसिंह राजपूत, पंकज शर्मा, राजेश राठौर, वृन्दावन बाथम, दीवान सिंह राजपूत, महाराजपुरा पुलिस थाने का बल और नगरनिगम अमले आदि संयुक्त रूप से कार्यवाही को अंजाम दिया। यहां 8 हजार वर्गफीट पर मकान बने थे। उनके बीच की जमीन पर प्लॉट काटे जा रहे थे। 

जब टीम पहुंची, तो वहां लोगों ने हंगामा कर कार्रवाई रोकने का प्रयास किया, लेकिन काफी संख्या में पुलिस फोर्स मौजूद था, इसलिए विरोध ज्यादा देर नहीं चला।इसी सिलसिले में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के निर्देश पर बुधवार को एसडीएम मुरार पुष्पा पुषाम डीडी नगर के पास स्थित ग्राम साहनपुर मौजा में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण हटाने पहुंची थी। जिला प्रशासन के पहुंचने से पहले वहां काफी तादाद में पुलिस फोर्स पहुंच गया था। इसके बाद जिला प्रशासन की टीम व मदाखलत दस्ता पहुंचा। जैसे ही, मकानों को तोड़ने की बात हुई और लोगों को घर खाली करने के लिए निर्देशित किया, तो तनाव बढ़ गया। लोग हंगामा और झगड़ा करने लगे। पुलिस फोर्स ने स्थिति संभाली।