मुख्यमंत्री ने किया रैन बसेरा का औचक निरीक्षण...

प्रदेश की धरती पर किसी को बेसहारा नहीं रहने देंगे : CM शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की धरती पर किसी को बेसहारा नहीं रहने देंगे। सभी नगरीय निकायों के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि हर परिवार को छत ज़रूर मिले। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इंदौर के सुखालिया तथा झाबुआ टावर स्थित रैन बसेरा में औचक निरीक्षण के दौरान यह बात कही। उन्होंने रैन बसेरा में विभिन्न प्रांतों से आये मुसाफिरों से चर्चा कर यहाँ मिलने वाले भोजन एवं अन्य व्यवस्थाओं की जानकारी भी ली।

 मुख्यमंत्री श्री चौहान रैन बसेरा में ठहरे यात्री गुरु प्रसाद से आत्मीयता के साथ मिले। उन्होंने गुरु प्रसाद का कंबल निकालकर देखा और पूछा कि इसमें खटमल तो नहीं है। गुरु प्रसाद ने बताया कि बिस्तर साफ-सुथरा मिला है और यहाँ की सभी व्यवस्थाएँ भी अच्छी हैं। रैन बसेरा में ठहरे दिल्ली के मुसाफिर विनोद ने मुख्यमंत्री द्वारा पूछने पर बताया कि नगर निगम द्वारा संचालित यह रैन बसेरा पूरी सुविधाओं से परिपूर्ण है। उन्होंने ऐसा रैन बसेरा दिल्ली में भी नहीं देखा। 

मुख्यमंत्री ने रैन बसेरा का रजिस्टर चेक किया और यहाँ रुके यात्रियों की जानकारी ली। रैन बसेरा की व्यवस्थाओं को मुख्यमंत्री ने सराहा। रैन बसेरा के निरीक्षण बाद  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रेसीडेंसी कोठी में विभिन्न प्रतिनिधि मण्डलों से मुलाकात की।  उन्होंने अयोध्यापुरी और पुष्प विहार सहकारी समिति के प्रतिनिधियों से चर्चा कर उनकी समस्याएँ सुनी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी के साथ भी अन्याय नहीं होने दिया जायेगा और गलती पाये जाने पर संबंधितों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई भी की जायेगी।