यातायात पुलिस ने चलाया “ट्रेफिक वार्डन” प्रशिक्षण कार्यक्रम…

शहर की यातायात व्यवस्था सुधारने की जिम्मेदारी हम सभी की है : आईजी

ग्वालियर। विगत दिनों शहर की यातायात व्यवस्था में सुधार के लिये हुए सेमीनार मे लिये गये निर्णय अनुसार एवं पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी के निर्देश पर जिले की यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से अति. पुलिस अधीक्षक यातायात ग्वालियर पंकज पाण्डे द्वारा डाटा सेंटर हजीरा में ट्रेफिक वार्डनों के लिये दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन कराया गया था। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन आज दिनांक 23.02.2021 को पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन अविनाश शर्मा द्वारा किया गया। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम में 34 ट्रेफिक वार्डनों को यातायात संबंधी प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन द्वारा सम्मानित भी किया गया। 

समापन के अवसर पर आईजी ग्वालियर ने सभी प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि “आपके प्रयास से ना सिर्फ शहर का यातायात व्यवस्थित हो सकता है, बल्कि किसी की जान भी बच सकती है। आपका यह काम आमजन की सेवा के लिए है।“ इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने सभी प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि वाहन चालकों द्वारा नियमों को तोडऩे पर यातायात जाम लग जाता है और कई बार उनकी यह लापरवाही से उनकी जान पर भी बन आती है। इसलिए जब भी आप सड़क पर तैनात रहे अपना पूरा ध्यान यातायात नियमों का पालन कराने पर रखे। जिससे हादसों को रोका जा सके और किसी के घर के चिराग बुझने से बचाया जा सके। 

समापन समारोह में पुलिस अधीक्षक ग्वालियर के साथ अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण हितिका वासल, अति. पुलिस अधीक्षक शहर मध्य/यातायात पंकज पाण्डे, उप पुलिस अधीक्षक यातायात आर.एन. त्रिपाठी, विक्रम कनपुरिया तथा यातायात पुलिस के अधिकारी व कर्मचारिगण उपस्थित रहे। यातायात पुलिस ग्वालियर द्वारा हजीरा डाटा सेंटर पर चलाये गये ट्रेफिक वार्डनों के प्रशिक्षण कार्यक्रम के पहले दिन सभी प्रशिक्षणार्थी का रजिस्ट्रेशन कराया गया तद्उपरांत उन्हे यातायात संबंधी इंडोर व आउटडोर प्रशिक्षण दिया गया। आउटडोर प्रशिक्षण के दौरान सभी प्रशिक्षणार्थी को चौराहे/तिराहो पर यातायात को नियंत्रित करने हेतु ट्रेफिक मैनुअल संकेतों का भी प्रशिक्षण दिया गया। 

दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान यातायात पुलिस के अधिकारियों द्वारा सभी ट्रेफिक वार्डनों को प्रेजेंटेशन व पेम्प्लेट के जरिये यातायात नियमों के बारे में समझाया साथ ही उनको बताया कि वह किस प्रकार जिले की जनता को यातायात नियमों का पालन करने के लिये जागरूक कर सकते है। दो दिवसीय प्रशिक्षण में कुल 34 वार्डनों को तैयार किया गया है जो यातायात पुलिस के साथ शहर के प्रमुख चौराहों पर तैनात रह कर यातायात नियमों का पालन कराएगे। दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी वार्डनों को यातायात नियमों की जानकारी के साथ साथ चौराहो अथवा सड़क पर जाम की स्थिति उत्पन्न होने पर किस प्रकार लोगों की मदद की जाये इसकी भी समझाईश दी। एसोसिएशन ऑफ ग्वालियर यूथ सोसाइटी के अध्यक्ष संजय कट्ठल के द्वारा ग्वालियर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को स्मृति चिन्ह भेंट किये गये।