फ्रंट लाइन वर्कर निर्धारित तिथि पर वैक्सीनेशन केन्द्र पहुँचें...

जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने लगवाए टीके

ग्वालियर। वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव के लिये ग्वालियर जिले में भी वैक्सीन लगाकर लोगों को सुरक्षा कवच प्रदान किया जा रहा है। कोविड की वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है। इसे हर व्यक्ति को लगवाना चाहिए। इसका संदेश देने के लिये जिले के वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने भी आज जयारोग्य चिकित्सालय पहुँचकर टीका लगवाया। जिले में 10, 11 व 12 फरवरी को फ्रंट लाइन वर्करों को कोविड से बचाव के टीके लगाए जा रहे हैं। फ्रंट लाइन कर्मचारियों में नगर निगम, जिला प्रशासन और जिला पंचायत के शासकीय अधिकारी-कर्मचारी शामिल हैं। 

बुधवार को जेएएच अस्पताल परिसर में बनाए गए टीकाकरण केन्द्र में संभागीय आयुक्त आशीष सक्सेना, आईजी अविनाश शर्मा, कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा, सीईओ स्मार्ट सिटी जयति सिंह, अपर कलेक्टर आशीष तिवारी, एडीएम टी एन सिंह, एडीएम रिंकेश वैश्य, सीईओ जिला पंचायत किशोर कान्याल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व प्रदीप तोमर, अनिल बनवारिया, एच बी शर्मा सहित नगर निगम के अपर आयुक्त नरोत्तम भार्गव, राजेश श्रीवास्तव और मुकुल गुप्ता सहित वरिष्ठ अधिकारियों और कर्मचारियों ने टीके लगवाए। 

संभाग आयुक्त आशीष सक्सेना एवं कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने फ्रंट लाइन वर्करों से अपील की है कि वे निर्धारित तिथि पर टीकाकरण केन्द्र पर पहुँचें और टीके लगवाएं। उन्होंने आम जनों से भी कहा है कि कोरोना वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है और इसे लगवाने से कोरोना से बचाव संभव है। कोरोना टीकाकरण से घबराने की कोई जरूरत नहीं है। कलेक्टर ने बताया कि जिले में 17 टीकाकरण केन्द्र बनाए गए हैं, जिन पर टीकाकरण का कार्य किया जा रहा है। 

इनमें जीआरएमसी, आयुर्वेदिक कॉलेज, सिविल हॉस्पिटल हेम सिंह की परेड, सिविल अस्पताल हजीरा, जिला चिकित्सालय मुरार, ईएसआई हॉस्पिटल, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ठाठीपुर, जनकगंज व फालका बाजार, एमएच लक्ष्मीगंज, आरोग्यधाम हॉस्पिटल सिटी सेंटर, सिविल डिस्पेंसरी पाताली हनुमान, आरजेएन अपोलो हॉस्पिटल, बीएसएफ टेकनपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र डबरा, सीआरपीएफ हॉस्पिटल व कुलैथ के सरकारी अस्पताल शामिल हैं।