26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान...

लाल किले की हिंसा के आरोपी को क्राइम ब्रांच ने चंडीगढ़ से किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) को लाल किले की हिंसा का आरोपी सुखदेव सिंह को क्राइम ब्रांच ने चंडीगढ़ से किया गिरफ्तार कर लिया है। इसके ऊपर 50,000 का ईनाम घोषित किया गया था। आरोपी सुखदेव सिंह को दिल्ली लाया जा रहा है। बता दें कि, दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर लालकिले पर हुई हिंसा के आरोप में शनिवार को तीन और लोगों को गिरफ्तार किया था। इसके बाद 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में भड़की हिंसा के संबंध गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या 126 हो गई है। 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि उसने 26 जनवरी की हिंसा में शामिल 70 से ज्यादा लोगों की तस्वीरें जारी की हैं और उनकी पहचान की जा रही है। उन्होंने बताया कि गणतंत्र दिवस के मौके पर हुई हिंसा के सिलसिले में अब तक कुल 126 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी चिन्मय बिस्वाल ने कहा, ‘‘हम लगातार उन वीडियो और फुटेज की जांच कर रहे हैं जो हमें हिंसा में शामिल लोगों की स्पष्ट तस्वीर प्राप्त करने के लिए मिली हैं। 

शिनाख्त की प्रक्रिया चल रही है।'' उन्होंने बताया कि किसानों के मुद्दे पर आपत्तिजनक वीडियो भारत के बाहर के स्थानों से अपलोड किए जा रहे हैं और उनकी भी पड़ताल की जा रही है। दिल्ली पुलिस का साइबर प्रकोष्ठ मामले की जांच कर रहा है। दिल्ली पुलिस की ‘साइबर प्रिवेंशन अवेयरनेस एंड डिटेक्शन' (सीवाईपीएडी) इकाई ने करीब सात-आठ नोटिस जारी किए हैं। इस संबंध में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ''हमने लगभग सात से आठ लोगों को नोटिस भेजे हैं। 

हालांकि, उनमें से केवल दो ने जवाब दिया है। उन्होंने जांच में शामिल होने के लिए कुछ समय मांगा है।'' प्रदर्शनकारियों को भड़काने के आरोप में बूटा सिंह, सुखदेव सिंह, जजबीर सिंह और इकबाल सिंह पर 50-50 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है। वहीं किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान लाल किले में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने 45 और उपद्रवियों की तस्वीरें जारी की हैं। सभी 45 उपद्रवी वीडियो और सीसीटीवी में हिंसा करते हुए नजर आए। हालांकि हिंसा का मास्टरमाइंड दीप सिद्धू अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है।