सीएमओ छुट्टी पर होने से...

वेतन ना मिलने पर आक्रोशित सफाईकर्मियों ने किया नगरपरिषद का घेराव

डबरा (बिलौआ)। प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने सफाईकर्मियों की अर्थव्यवस्था को ध्यान में रखकर प्रत्येक माह की 1 तारीख को उनके वेतन का भुगतान किए जाने के संबंध मैं निर्देश जारी किए हैं । लेकिन इस समय नगर परिषद बिलौआ के सफाईकर्मियों मैं अपने वेतन के संबंध में सिर्फ निराशा बनी हुई है । दरअसल, अनुविभाग के नगर परिषद बिलौआ मैं सीएमओ मेडिकल प्रस्तुत कर लंबे समय की छुट्टी पर है इसके चलते सफाई कर्मियों का वेतन भुगतान नहीं हो पाया जिससे सफाई कर्मचारी भारी परेशान है उनकी आर्थिक स्थिति गड़बड़ा गई है जबकि कस्बे के सफाई कर्मचारियों को  मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुसार अपने वेतन मिलने की बात तो दूर है उन्हें लगता है कि इस महीने वेतन मिल भी पायेगा या नहीं क्योंकि नगर परिषद बिलौआ के मुख्य नगरपालिका अधिकारी छुट्टी पर हैं और ऐसे में सफाई कर्मचारियों को वेतन मिलना मुश्किल है उनकी छुट्टी का भी पता नहीं है। सफाई कर्मचारियों का कहना है कि हम दिन और रात नगर की सफाई करते रहते हैं जब भी कोई साफ सफाई से संबंधित समस्या आती है तो हमारे ऊपर ही गाज गिरती है। 

इसके अलावा भी हमें कहीं भी नगर परिषद के अन्य कार्य में भी भेज दिया जाता है हमने कभी भी किसी कार्य को लेकर मना नहीं की है फिर भी हमें समय पर वेतन नहीं मिल पाता है जिस प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सफाई कर्मचारियों को महीने की 1 तारीख को वेतन देने की बात कही है लेकिन नगर परिषद में तो सीएमओ ही नहीं तब ऐसे में हमें वेतन कैसे मिलेगा वेतन समय पर नहीं मिलने से हमें परिवार चलाने में कई प्रकार की समस्याएं आ रही हैं हमारी तो शासन से यही गुजारिश है हमें समय पर भुगतान किया जाए जिससे कि हम अपने घर परिवार को आ रही है आर्थिक समस्या से बचा सकें वेतन की मांग करने वालों में सफाई प्रभारी दरोगा धर्मेंद्र खरे, रामप्यारी बाई खरे ,वीरेंद्र खरे ,विनोद खरे, अज्जू खरें, नरेंद्र खरे, राजेश खरे, सुरेश खरे, मिथिलेश खरे, फूलवती खरे ,विद्या बाई खरे ,मुन्नी खरे, शीला खरे ,कमल खरे ,राजू  ढोलकर संतोष खरे,करण धोलकर, घनश्याम खरे ,चंद्रेश कुशवाह ,श्याम चौरसिया, अंकित चौरसिया ,धर्मेंद्र सेन , अस्थाई प्रभारी सफाई दरोगा बृजेश भार्गव ,ज्ञादीन चौरसिया ,अभिषेक चौरसिया, मुनेश जाटव ,बनवारी लाल जाटव आदि नगर परिषद के कर्मचारी उपस्थित रहे।

सीएमओ मेडिकल के आधार पर छुट्टी पर गए हैं इसके बारे में उच्च अधिकारियों को सूचना दे दी है कि नगर  परिषद में सीएमओ की व्यवस्था की जाए जिससे सभी कर्मचारियों का वेतन समय पर मिल सके। - रामनिवास सिकरवार (प्रशासक नगर परिषद बिलौआ)