कोविड से बचने के लिये मास्क का उपयोग करें...

कोविड पुनः दस्तक न दे अभी से एतिहात बरतें : श्री कार्तिकेयन

मुरैना। कोविड एक बहुत बड़ी बीमारी है इससे बचने के लिये हम सभी को एतिहात बरतने होंगे। प्रायः देखने में आया है कि महाराष्ट्र, केरल में कोविड के केस पुनः बढ़ने लगे हैं इसलिये हम सबको सजग रहने की जरूरत है। महाराष्ट्र और केरल से आने वाले लोगों की रेल्वे स्टेशन या जिस क्षेत्र में पहुंच रहे हैं उस क्षेत्र में पहुंचकर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग कराई जाये और 14 दिन के लिये होम क्वारेंटाइन रहने की सलाह दें। महाराष्ट्र, केरल से आने वाले लोगों की कोविड टेस्ट भी करा लें। यह बात कलेक्टर बी कार्तिकेयन मंगलवार क्रायसिस मैनेजमेंट की बैठक में मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों एवं अधिकारियों से कही। इस अवसर पर बैठक में वर्चुअल काॅन्फ्रेंस के माध्यम से सबलगढ विधायक बैजनाथ सिंह कुशवाह, मुरैना विधायक राकेश मावई जुड़े। बैठक में पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडे, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक हंसराज, अपर कलेक्टर उमेश प्रकाश शुक्ला, संयुक्त कलेक्टर सहित संबंधित विभागों के जिलाधिकारी प्रस्तुत थे। कलेक्टर बी कार्तिकेयन ने कहा कि कोविड हम सबके लिये गंभीर बीमारी है। 

इससे बचने के लिये एतिहात बरतें, लोगों में अवेयरनेस फैलायें कि मास्क का उपयोग करें, सेनेटाइजर लगायें और दो मीटर की दूरी अवश्यक बनायें। उन्होंने कहा कि नगर निगम और नगरीय निकाय प्रतिदिन कचरा उठाने वाली गाड़ियों पर कोविड से बचने के लिये आवश्यक सावधानियों के जिंगल बनाकर तैयार किये जायें और उन्हें बजवाया जाये। शहरों के प्रमुख बाजारों, प्रमुख चैराहों पर पोस्टर बैनर में कोविड से बचने के लिये मास्क लगायें। इस प्रकार के संदेश लिखवाये जायें। उन्होंने कहा कि जो लोग मास्क का उपयोग नहीं करते हैं उन पर निश्चित राशि तय की जाये जिससे प्रत्येक व्यक्ति मास्क लगाये। उन्होंने कहा कि दुकानदार भी अपनी दुकान पर सेनेटाइजर एवं मास्क रखें जो भी व्यक्ति सामग्री लेने के लिये आता है उसे सामग्री अवश्य दें और उसे बिना मास्क के आता है तो उसे एक मास्क अवश्य पहनायें जिसकी राशि समग्री खरीदते समय उस राशि में से काटें। कलेक्टर ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा रेल्वे स्टेशन पर महाराष्ट्रा और केरल से आने वाले मुसाफिरों की थर्मल स्क्रीनिंग करने के लिये टीम गठित कर दी है। यह टीम शीघ्र ही अपनी सर्चिंग का कार्य प्रारंभ करेंगी। 

कलेक्टर ने कहा कि बैंकों, शासकीय कार्यालयों में सेनेटाइजर उपलब्ध रहे तथा प्रत्येक व्यक्ति मास्क का उपयोग अवश्यक करे। उन्होंने कहा कि लाॅकडाउन सभी के लिये कठिनाई का कारण था। इससे बचने के लिये अभी से एतिहात बरतने की जरूरत है। पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडे ने कहा कि क्रायसिस मैनेजमेंट के सभी सदस्य अपने अपने मोबाइल से एक एक मिनट का वाॅइस बोलकर तैयार करें जिसमें कोविड से बचने के लिये सेनेटाइजर मास्क का उपयोग और दो गज की दूरी का पालन करें इस प्रकार का संदेश सोशल मीडिया पर जायेगा तो यह मैसेज सुदूर एवं अंतिम व्यक्ति तक अवश्य पहुंचेगा तो लोग सजग होकर इसका पालन करेंगे। यह विधि बिना खर्च की है। जनप्रतिनिधि जनता में जनजाग्रति करेंगे तो लोगों में बहुत अच्छे से मैसेज जायेगा। उन्होंने कहा कि पहले ऐसे हाॅटस्पाॅट देखें जहां महाराष्ट्र और केरल से लोग आये हों। उन स्थानों पर मीटिंग के माध्यम से समझायें। यह समस्या बड़ी है लड़ाई लड़नी होगी। लोग बाहर से ऐसे रूटों की बसों को चिन्हित करें जहां पर कोविड तेजी से बड़ रहा है। समाजसेवी आगे आयें और निचली बस्तियों में मास्क एवं सेनेटाइजर का वितरण करायें।