सावरकर जी का अपमान असहनीय...

7 को हिन्दू महासभा जलायेगी मुख्यमंत्री के पुतले !

ग्वालियर। अखिल भारत हिंदू महासभा के प्रखंड , ज़िला , संभागीय संगठन के पदाधिकारियों की बैठक प्रदेश महामंत्री जी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई बैठक में गत दो माह से चलाये जा रहे चरणबद्ध आन्दोलन की समीक्षा की गई। एडीएम दारा रामधुन यात्रा की अनुमति नहीं  देने पर अक्रोस व्यक्त करते हुए कहा कि गत तीन वर्षों से वीर सावरकर प्रतिमा को बंद कर दिया है स्मार्ट सिटी के नाम पर लाखों की लागात के बाद भी आम आदमी को वंचित किया गया है। टाउन हॉल (शहीद अमरचद बाठिया सभागार ) एवं महारानी लक्ष्मीबाई मार्केट के तैयार होने के बाद भी उसे आमजन के लिए खोलने के लिए स्मार्ट सिटी कार्यालय पर प्रदर्शन कर सीईओ जयंती सिंह के नाम ज्ञापन सौंपा। 

हिन्दू महासभा लगातार माँग कर रही है मंदिरों से अतिक्रमण नहीं हटाया जा रहा है। हिन्दू महासभा ने 28 जनवरी को ज़िलाधिकारी कार्यालय,सिटी सेंटर गवालियर गेट पर ज्ञापन धरना प्रदर्शन करने के बाद चस्पाँ कर दिया था और माँगो को पूरा नहीं करने पर मुख्यमंत्री जी की प्रस्तावित यात्रा के दौरान विरोध प्रदर्शन करने की घोषणा की थी। हिन्दू महासभा को अनुमति नहीं दी जा रही हैं यदि अनुमति नहीं दी गई तो हिन्दू महासभा 7 फ़रवरी को मुख्यमंत्री के पुतले जलाकर विरोध प्रकट करेगी। इसके लिए चार लोगों को दायित्व सौंपा गया है। 

बैठक में बड़ी संख्या में महिला,पुरुष,युवा उपस्थित थे। उपस्थित पदाधिकारियों में डॉ जयवीर भारद्वाज, विनोद जोशी लालजी शर्मा, पवन गुप्ता मनोज जाटव, विनीत श्रीवास्तव, हरिदास अग्रवाल, मोहन सिंह बघेले, लोकेश शर्मा,बंटी गुर्जर, महेश गुजराती,रामनिवाश गुर्जर, के पी बादल, आरती सूर्यवंशी, उषा बघेल, सुनंदा जी, हेमलता प्रजा पती, निर्मला प्रजापति, यामिनी तांबे, ऋतु राणा,आनंद माहौर, बिट्टू ठाकुर, कृष्णा सोन, प्रहलाद बघेल, कुणाल पाल आदि उपस्थित रहे।