CM ने निगम का एक और विकेट गिराया...

नगर निगम ग्वालियर में घूसघोरी और अराजकता चरम पर !

ग्वालियर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्वालियर नगर निगम का एक और विकेट गिरा दिया। शुक्रवार को कलेक्टर- कमिश्नर कॉन्फ्रेंस में उन्होंने नगर निगम के सहायक आयुक्त नागेंद्र सिंह गुर्जर को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। गुर्जर का एक ऑडियो वायरल हुआ था जिसमें से ₹10000 हर रोज मांगने की बात कह रहे थे। यह ऑडियो वरिष्ठ अफसरों तक पहुंचा।अधकारियों ने इसे निगम की भ्रष्टाचारी और अराजक व्यवस्था का एक और मुद्दा माना और मुख्यमंत्री ने गुर्जर को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने के निर्देश दे दिए। 

उधर संभागीय आयुक्त आशीष सक्सेना ने इस मामले में उपायुक्त प्रदीप श्रीवास्तव को निर्देश दिए हैं कि वह गुर्जर के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराएं। नगर निगम में घूसघोरी चरम पर है, यह एक-एक कर सामने आने लगा है। सिटी प्लानर प्रदीप वर्मा जब से 5 लाख की घूस लेते रंगे हाथों पकड़े गए हैं तब से कई मामलों का खुलासा होने लगा है। ताजा मामला सहायक आयुक्त नागेन्द्र सिंह गुर्जर के ऑडियो वायरल होने का आया था। 

आडियो में सहायक आयुक्त गुर्जर अपने कंप्यूटर आपरेटर करन वर्मा से मोबाइल पर बात कर रहे हैं, जिसमें वह बोल रहे हैं कि मुझे तो प्रतिदिन दस हजार स्पये मिल जाएं, बाकी के सारे पैसे तुम्हारे हैं। तुम लोग आपस में बांट लेना। मेरी एक ही बेटी है उसकी शादी करनी है। उपायुक्त(प्रदीप श्रीवास्तव) अधिक परेशान करता है तो उसके पैरों को हॉकियों से तोड़ दो। गुरुवार को यह नया आडियो वायरल होने के बाद नगर निगम में खलबली तो मची लेकिन वरिष्ठ अधिकारी उसे बचाने में जुटे रहे। लेकिन मुख्यमंत्री ने इसे गंभीर मामला माना और सस्पेंड करा दिया।