कलेक्टर ने नोडल अधिकारी नियुक्त करने के दिए निर्देश...

ग्वालियर जिले में भी मनेगा “अन्न उत्सव” : श्री सिंह

ग्वालियर। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत जिले में संचालित शासकीय उचित मूल्य की दुकानों से हर पात्र परिवार को राशन मुहैया कराने के मकसद से ग्वालियर जिले में भी हर माह “अन्न उत्सव” का आयोजन किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने गत 9 दिसम्बर को आयोजित हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में “अन्न उत्सव” आयोजित करने के निर्देश दिए थे। इस परिपालन में कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने जिले के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को सुव्यवस्थित ढंग से “अन्न उत्सव” आयोजित करने के लिये हर उचित मूल्य की दुकान के हिसाब से नोडल अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिए हैं। 

साथ ही “अन्न उत्सव” की तिथियों का व्यापक प्रचार-प्रसार करने को भी कहा है। राज्य शासन के दिशा-निर्देशों के तहत हर माह प्रत्येक उचित मूल्य की दुकान पर एक दिन “अन्न उत्सव” मनाया जायेगा। उचित मूल्य की दुकानें पूर्व निर्देशों के अनुसार निर्धारित दिनों में भी खुली रहेंगीं और पात्र राशनकार्ड धारियों को अन्य दिनों की तरह राशन लेने की पात्रता रहेगी। हर माह 4 तारीख के बाद लगने वाले पहले हाट बाजार के दिन अन्न उत्सव का आयोजन किया जायेगा। जिन गाँवों में हाट बाजार नहीं लगते हैं उन गाँवों में उचित मूल्य की दुकानों में माह की 7 तारीख को अन्न उत्सव आयोजित होंगे। यदि एक सेल्समैन द्वारा एक से अधिक दुकानों का संचालन किया जाता है तो ऐसे स्थानों के लिये 9 तारीख की तिथि अन्न उत्सव के लिये निर्धारित की गई है। अपरिहार्य स्थिति में 10 तारीख के पूर्व किसी अन्य तिथि को भी अन्न उत्सव का आयोजन किया जा सकेगा।

अन्न उत्सव की तिथियों की जानकारी उचित मूल्य की दुकान एवं ग्राम पंचायत भवन पर प्रदर्शित करने के निर्देश भी कलेक्टर ने दिए हैं। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने निर्देश दिए हैं कि अन्न उत्सव का आयोजन उचित मूल्य दुकान की निगरानी समिति के अध्यक्ष व सदस्य सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में किया जाए। इसके लिये उन्हें विधिवत आमंत्रित करें। साथ ही संबंधित नोडल अधिकारी भी इस अवसर पर मौजूद रहें। अन्न उत्सव के दिन उचित मूल्य की दुकान अनिवार्यत: पूरे दिन खुली रहें। उचित मूल्य की दुकान नोडल अधिकारी की मौजूदगी में खोली जाए और उनके स्टॉक पंजी पर हस्ताक्षर भी हों।