खुदरा लोकतंत्र दिवस व्यापारियों ने PM के नाम ज्ञापन सौंपा…

ई कामर्स कम्पनियों पर हो सख्त कार्यवाही : कैट

देश के व्यापारियों की शीर्ष संस्था कन्फैडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स कैट द्वारा खुदरा लोकतंत्र दिवस के अवसर पर राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के तहत आज मंगलवार दोपहर 12:00 बजे स्थानीय सतना कलेक्ट्रेट परिसर में कैट के प्रदेश सचिव अशोक दौलतानी के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा गया। कैट जिला महामंत्री नरेंद्र जैन व जिला मंत्री पवन मलिक ने बताया कि चन्द्शेखर अग्रवाल, रामऔतार चमडिया, राजीव  गुप्ता की विशेष उपस्थिति में ई-कामर्स कंपनियों द्वारा एफडीआई नीति और कानून के उल्लंघन करने पर व्यापारियों द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया। कैट जिला उपाध्यक्ष पवन ताम्रकार, मनोहर वाधवानी ने संयुक्त रूप ने कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने खुदरा बाजार को बचाना होगा। 

"लोकल फॉर वोकल" और "अत्निनिर्भर भारत" अभियान को सुदृढ़ करने कड़े कदम उठाने होगें। कैट के अभिषेक जैन, गोपी चंद कापडी ने कहा कि ई-कॉमर्स कंपनियों ने अपने असीमित संसाधनों के बल पर सरकार की एफडीआई नीति और सम्बंधित कानूनों, नियमो का निरंतर उल्लंघन किया है। इस मौके पर मुख्य रूप से राजेश अग्रवाल, जितेंद्र साबनानी, अजय कलवानी, सुशील मंघनानी, आशीष मोंगिया, अशोक ताम्रकार, गोबिन्द छाबडिया, राहुल आर्तानी, राजेश अग्रवाल(पैकेजिंग), हीरा छाबडिया, अनूप मंघनानी, दयाल कापडी, अनिल धनवानी, गुरुमुख  सहित अनेक व्यापारी संगठनो के प्रमुख लोग उपस्थित रहे। 

किराना व्यापारी संघ, पन्नीलाल चौक व्यापारी संघ, सतना मोटर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन,जनरल मर्चेट एसोसिएशन, सतना प्रिन्ट एसोसिएशन, इलेक्ट्रॉनिक मर्चेट एसोसिएशन, क्लाथ मर्चेट एसोसिएशन, रेडीमेट वस्त्र विक्रेता संघ, खाद विक्रेता संघ, स्टेशनरी एसोसिएशन, सतना प्लास्टिक एसोसिएशन, की उपस्थित उल्लेखनीय रही। कैट के प्रदेश सचिव अशोक दौलतानी ने कहा यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि कानून के संरक्षक होने के बावजूद विभिन्न सरकारी विभाग सरकार की नीति को इन कंपनियों द्वारा पालन करवाने में विफल रही हैं। आज पूरे भारत में खुदरा लोकतंत्र दिवस के अवसर पर व्यापारियों द्वारा अपने अपने शहर में प्रधानमंत्री के नाम ई-कामर्स कम्पनियो के विरोध में ज्ञापन सौंप कर कार्यवाही की मांग कर रहा है।