एक करोड से अधिक निर्माण कार्याें की समीक्षा बैठक संपन्न…

निर्माण कार्यों में क्वालिटी में कम्प्रोमाइज नहीं करूंगा : कलेक्टर

मुरैना। कलेक्टर अनुराग वर्मा ने निर्माण विभाग के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये कि सभी विभागों के अंतर्गत निर्माण कार्य जिले में चल रहे हैं। निर्माण कार्यों में क्वालिटी में कम्प्रोमाइज नहीं करूंगा। निरीक्षण के दौरान मुझे मानक अनुसार क्वालिटी मिलना चाहिये जो भी कार्य पूर्ण हो चुके हैं या पूर्णतः की ओर हैं उन्हें 31 मार्च 2021 तक पूर्ण करें। ये निर्देश उन्होंने शुक्रवार को नवीन कलेक्ट्रेट सभाकक्ष मुरैना में एक करोड़ से उपर के निर्माण कार्यों की समीक्षा करते समय अधिकारियों को दिये। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत तरूण भटनागर, अपर कलेक्टर, आयुक्त नगर निगम अमरसत्य गुप्ता, पीएचई, पीआईयू, सिंचाई विभाग पीडब्ल्यूडी, जल निगम, आरईएस, एमपीबी सहित मनरेगा से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे।

कलेक्टर अनुराग वर्मा ने पीआईयू, पीडब्ल्यूडी, सिंचाई विभाग, ब्रज काॅर्पोरेशन, लोकनिर्माण, ईआरईएस, जल निगम, नगर निगम के द्वारा चल रहे एक करोड़ से उपर के निर्माण कार्यांे की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिये कि निर्माण कार्यों की क्वालिटी बेहतर मिले और समय सीमा के कार्यों को समय सीमा में पूर्ण करायें। उन्होंने पीआईयू अधिकारी श्री अहिरवार को निर्देश दिये कि जौरा में एसडीएम भवन और अंबाह बामौर में तहसील भवन के निर्माण कार्य 31 जनवरी तक पूर्ण किये जायें। उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के अंतर्गत विधि महाविद्यालय निर्माण कार्य का फिनीशिंग एवं पुताई कार्य न होने के कारण लंबित है। ऐसे कार्यों को प्राथमिकता से पूर्ण करायें।

कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग में चल रही समीक्षा के दौरान कहा कि पत्रक पर कार्य प्रारंभ एवं कार्य पूर्ण करने की तिथि अंकित होनी चाहिये। तभी पत्रक पर ज्ञात होता है कि कौन सा कार्य किस स्थिति में कब पूर्ण होना था। जिसमें कई कार्य जौरा के अंतर्गत तिलावली और दिमनी के अंतर्गत परीक्षा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र 2017 का स्वीकृत होने पर भी कार्य नींव तक प्रगतिरत है। ऐसा नहीं चलेगा। कार्य में तेजी लायें। सामाजिक न्याय विभाग के तहत 50 सीटर वृद्धाश्रम का कार्य कामतानाथ कंस्ट्रक्शन कंपनी द्वारा 2018 में लिया था। जिसमें फिनिशिंग कार्य शेष है। ऐसे कार्यों को प्राथमिकता से 31 दिसंबर तक हैंडओवर करें। कलेक्टर ने कहा कि लोक शिक्षण उत्कृष्ट छात्रावास सौ सीटर बालक 2018 में कार्य प्रारंभ हुआ था जिसकी स्थिति अभी भी नींव तक रूकी हुई है। इस प्रकार के कार्य मुझे बर्दाश्त नहीं हैं। अधिकारी प्राथमिकता के साथ रूचि लेकर प्रारंभ करें।

कलेक्टर अनुराग वर्मा ने जल निगम द्वारा दतहरा परियोजना के बारे में समीक्षा की जिसमें उन्होंने एसडीओ श्रीमती नैन्सी से परियोजना की संपूर्ण जानकारी प्राप्त की एवं अगले सप्ताह अवलोकन कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने बृज काॅर्पोरेशन विभाग की समीक्षा करना चाही किंतु अधिकारी अनुपस्थित रहने के कारण समीक्षा नहीं हो पायी इस कारण ब्रज काॅर्पोरेशन के अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किये। कलेक्टर ने प्रधानमंत्री सड़क योजना, स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत गढिया पोरसा, नावली, खेड़ा मेवदा, इमलिया, सुमावली हिंगौना कला, कन्हार में कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी 1183.83 लाख रूपये की निर्माण कार्यों की भी समीक्षा की।