किसानों के आंदोलन के बीच...

आज अन्नदाताओं से बात करेंगे पीएम मोदी

केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर करीब एक महीने से किसानों का प्रदर्शन जारी है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल किसानों को संबोधित करेंगे. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि कल का दिन किसानों के लिए बेहद अहम है. पीएम मोदी पीएम-किसान निधि की अगली किस्त जारी करेंगे. यह कार्यक्रम ऐसे दिन है जब देश में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती भी मनाई जाएगी. वर्ष 2014 में सत्ता में आने के बाद से भाजपा इस दिन को ‘‘सुशासन दिवस’’ के रूप में मनाती है. पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ''कल का दिन देश के अन्नदाताओं के लिए बेहद अहम है. दोपहर 12 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 9 करोड़ से अधिक किसान परिवारों को पीएम-किसान की अगली किस्त जारी करने का सौभाग्य मिलेगा. 

इस अवसर पर कई राज्यों के किसान भाई-बहनों के साथ बातचीत भी करूंगा.'' पीएमओ के मुताबिक, मोदी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) के तहत वित्तीय लाभ की अगली किस्त जारी करेंगे. एक बटन दबाकर, 18,000 करोड़ रुपये से अधिक की राशि हस्तांतरित करेंगे. आयोजन के दौरान पीएम मोदी छह अलग-अलग राज्यों के किसानों के साथ बातचीत भी करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि पीएम मोदी किसान और किसानों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों के बारे में अपने अनुभवोंको साझा करेंगे. 

इस दौरान केंद्रीय कृषि मंत्री भी उपस्थित रहेंगे. पीएम-किसान योजना के तहत, पात्र लाभार्थी किसानों को 6,000 रुपये प्रति वर्ष का वित्तीय लाभ प्रदान किया जाता है, जो कि 2,000 रुपये की प्रत्येक चार माह में तीन समान किस्तों में दिया जाता है. पैसे को सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में भेजा जाता है. कृषि कानूनों को लेकर किसान संगठनों और सरकार के गतिरोध के बीच पीएम मोदी का संबोधन काफी महत्वपूर्ण है और इसके लिए बीजेपी ने काफी तैयारियां की है. बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने कहा, ‘‘इस उत्सव के अवसर पर बीजेपी के नेता और देश भर के किसान अलग-अलग कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे. देश के 19,000 से ज्यादा स्थानों पर ये कार्यक्रम आयोजित होंगे. 

इन कार्यक्रमों में देश के एक करोड़ से ज्यादा किसानों की भागीदारी सुनिश्चित हुई है.’’ उन्होंने कहा कि सिर्फ उत्तर प्रदेश में 3000 स्थानों में इन कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा. अरुण सिंह ने कहा, ‘‘देश के किसान को भरोसा है कि देश की खेती-किसानी का यदि कोई भला कर सकता है तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ही कर सकते हैं.’’ केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह राजधानी के महरौली और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारका सेक्टर 15 में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. पीएम मोदी जब वीडियो कांफ्रेंस से किसानों से बात करेंगे तब उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ लखनऊ से और केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी से कार्यक्रम में शामिल होंगी.