शनिवार को एक चुनावी रैली में…

जानिए आखिर क्यों सिंधिया ने स्वयं को कहा कुत्ता

अशोकनगर। मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव के लिए प्रचार चरम पर है। बीजेपी और कांग्रेस ने पूरी ताकत झोंक दी है। दोनों ही पार्टियों के नेताओं में जुबानी जंग भी चल रही है। दोनों ही ओर से वार-पलटवार जारी है। बयानों का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शनिवार को एक चुनावी रैली में कांग्रेस नेता कमलनाथ पर कुत्ता कहने का आरोप लगाया। 

कमलनाथ को जवाब देते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि हां, मैं कुत्ता हूँ , जो हमेशा अपने मालिकों के लिए वफादार रहता है। बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ जी यहां आते हैं,अशोक नगर में आए हैं,इसपर जनता जवाब देती है नहीं आए हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि और वो कहते हैं कि मैं कुत्ता हूं। कमलनाथ जी सुन लीजिए। मैं कुत्ता हूं। क्योंकि मेरी मालिक मेरी जनता है। मैं कुत्ता हूं, क्योंकि कुत्ता अपने मालिक की रक्षा करता है। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि कमलनाथ जी मैं कुत्ता हूं, क्योंकि अगर कोई भी व्यक्ति मेरे मालिक को ऊंगली दिखाए और मालिक के साथ भ्रष्टाचार और विनाशकारी नीति दिखाए तो कुत्ता काटेगा उसे। मुझे गर्व है कि मैं अपनी जनता का कुत्ता हूं। मालूम हो कि शुक्रवार को अशोकनगर शहर में आयोजित सभा में आचार्य प्रमोद कृष्णम ने बिना नाम लिए सिंधिया को कुत्ता कहा था। इन्होंने कहा कि जिस तरह से एक पिल्ला की रक्षा के लिए कुत्ता आगे आ जाता है, उसी तरह से यहां के विधायक को कार्रवाई से बचाने के लिए कुत्ता आ गया था। इस सभा के मंच पर कमलनाथ भी उपस्थित थे। 

शाढ़ौरा में आयोजित सभा में सिंधिया ने कमल नाथ पर और भी वार किए। इन्होंने कहा कि कमल नाथ विश्व स्तर के उद्योगपति हैं, मगर एक उद्योग स्थापित नहीं हुआ मप्र में, पर बल्लभ भवन में जो लोकतंत्र का मंदिर है, उसमें ट्रांसफर का उद्योग शुरू कर दिया था कमल नाथ ने। एक-एक व्यक्ति के लिए बोली लगती थी। बोरियों के साथ बल्लभ भवन में रात को रुपया निकलता था। मैं सड़क पर उतर गया और इस भ्रष्टाचारी सरकार को धूल चटाने का काम किया। मैंने सही किया ना इस सभा को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी संबोधित किया।