ग्वालियर के आसपास के क्षेत्रों में करता था सप्लाई…

क्राईम ब्रांच ने तस्कर को अवैध हथियारों सहित किया गिरफ्तार

ग्वालियर। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर अमित सांघी के निर्देश पर ग्वालियर जिले में इनामी फरारी बदमाशों एवं अवैध हथियारों की तस्करी करने वालों के विरूद्ध चलाये जा रहे अभियान के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध सतेन्द्र सिंह तोमर द्वारा ग्वालियर क्राईम ब्रांच को मुखबिर तंत्र विकसित कर प्रभावी कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया गया। 

आज दिनांक 30.09.2020 को पुलिस अधीक्षक ग्वालियर को जरिये मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि एक व्यक्ति हथियारों की सप्लाई करने ग्वालियर जिले मे आया हुआ है व सैंट बैनी स्कूल, मुरैना वायपास रोड़, पुरानी छावनी चौराहे के पास पर देखा गया है। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर द्वारा उप पुलिस अधीक्षक, अपराध रत्नेश सिंह तोमर को क्राईम ब्रांच की टीम गठित कर उक्त सूचना की तस्दीक हेतु लगाये जाने के लिये निर्देशित किया। 

उप पुलिस अधीक्षक अपराध द्वारा दिये गये निर्देशों के पालन में थाना प्रभारी क्राईम ब्रांच निरी दामोदर गुप्ता ने क्राईम ब्रांच की टीम गठित कर मुखबिर के बताये स्थान सैंट बैनी स्कूल, मुरैना वायपास रोड़ पुरानी छावनी चौराहे के पास, ग्वालियर की घेराबंदी कर एक संदिग्ध व्यक्ति को धरदबोचा। गिरफ्तार व्यक्ति से पूछताछ करने पर उसने अपना नाम शिशुपाल सिंह पुत्र सेनपाल सिंह चौहान ग्राम म्याउ थाना तालबेहट जिला ललितपुर, उ.प्र. होना बताया। 

गिरफ्तार तस्कर की तलाशी लेने पर उसके पास से मिले काले रंग के पिट्ठू बैग से 05 पिस्टल मय मैग्जीन व 01 जिंदा राउण्ड जप्त किये गये। उक्त तस्कर से पिस्टलों के संबंध में पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह यह पिस्टलें खरगोन जिले से लाकर ग्वालियर के आसपास के क्षेत्रों मे 20-25 हजार रूपये में बिक्री करता था। क्राईम ब्रांच ग्वालियर द्वारा उक्त तस्कर के विरूद्ध थाना क्राइम ब्रांच में आर्म्स एक्ट का प्रकरण पंजीबद्ध किया जाकर गिरफ्तार तस्कर से उसके गिरोह व स्थानीय सप्लायरों के संबंध में सख्ती से पूछताछ की जा रही है।