उप निर्वाचन-2020 के लिये नियुक्त अधिकारियों की बैठक सम्पन्न…

सभी नोडल अधिकारी सौंपे गए कार्य को समय से पूर्ण करें : श्री सिंह 

ग्वालियर। विधानसभा उप निर्वाचन-2020 के लिये 29 सितम्बर को आचार संहिता लागू कर दी गई है। जिसके लिये 9 अक्टूबर से नाम निर्देशन पत्र भरे जायेंगे।  3 नवम्बर को मतदान एवं 10 नवम्बर को मतगणना होगी। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने उप निर्वाचन के लिये नियुक्त सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अधिकारी निवार्चन के नियम पढ़ लें और अपना-अपना काम शुरू कर दें। उन्होंने कहा कि समय बहुत कम है। अत: अधिकारी जल्दी कार्य करें। 

कलेक्टर श्री सिंह ने तीनों विधानसभाओं के रिटर्निंग ऑफीसर को निर्देश दिए कि वे अपनी-अपनी टीम बना लें और नाम निर्देशन प्राप्त करने के नियमों को अच्छी तरह से पढ़ लें। भले ही इसके पूर्व चुनाव कराए हों। फिर भी नियमों को अवश्य पढें। सेक्टर ऑफीसर मतदान केन्द्र तैयार कर लें। उन्होंने कहा कि मतदान केन्द्र की पुताई, विद्युत व्यवस्था, खिड़की, दरवाजे आदि सभी व्यवस्थायें बारीकी से देख लें। नि:शक्तजन एवं 80 वर्ष से अधिक मतदाताओं के संबंध में उन्होंने निर्देश दिए कि इन मतदाताओं के डाक मत पत्र के लिये फार्म भरवायें। साथ ही मतदाता सूची भी तैयार करवाएँ। उन्होंने निर्वाचन व्यय लेखा समिति के नोडल ऑफीसर को भी सभी तैयारियाँ अभी से पूर्ण करने के निर्देश दिए। 

ईव्हीएम मशीन के संबंध में उन्होंने संबंधित नोडल ऑफीसर को निर्देश दिए कि कमीशनिंग टीम बना लें एवं सभी ईवीएम को चैक करा लें कि वे सही हालत में रहें। उन्होंने सामग्री वितरण एवं वापसी के संबंध में कहा कि यह कार्य काफी सावधानी से कराएँ। कोई सामान छूटने नहीं पाए। जिससे मतदान दलों को मतदान केन्द्र पर पहुँचकर कठिनाई हो। उन्होंने निर्देश दिए कि व्यय लेखा का प्रशिक्षण समय से करा लें। इसी प्रकार एफएसटी, एसएसटी एवं सी-विजिल की पूरी व्यवस्था कर लें। उन्होंने निर्देश दिए कि स्वीप की गतिविधियों को बहुत अच्छे से क्रियान्वित करें। बैठक में कलेक्टर ने एमसीएमसी की भी समीक्षा की।