हाथरस में हुई घटना को लेकर देशभर में आक्रोश…

जंतर मंतर पर प्रदर्शन में शामिल हुए सीएम केजरीवाल

 

नई दिल्ली। हाथरस में हुई घटना को लेकर देशभर में आक्रोश है. जगह-जगह प्रदर्शन हो रहे हैं. दिल्ली के जंतर मंतर पर भी सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंचकर प्रदर्शन कर रहे हैं. प्रदर्शन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, सीपीएम महासचिव सीतारमण येचुरी, सीपीआई नेता डी राजा, भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर आजाद शामिल हुए. केजरीवाल ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में बलात्कार की घटना हुई, तो दूसरा कहता है कि राजस्थान में भी हो गया. ये क्या बात है? ये तो ग़लत है.

उत्तर प्रदेश में क्यों हुए, राजस्थान में भी क्यों हुए, मध्य प्रदेश, मुंबई और दिल्ली में भी क्यों हुए. कहीं किसी का बलात्कार नहीं होना चाहिए. जंतर मंतर पर बढ़ती भीड़ को देखते हुए जनपथ मेट्रो स्टेशन पर एंट्री और एग्जिट बंद कर दिया गया है. राजीव चौक, पटेल चौक पर भी एग्जिट गेट को बंद कर दिया गया है. येचुरी ने कहा कि यूपी सरकार के पास सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है. हमारी मांग है कि न्याय सुनिश्चित किया जाए. वहीं चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि मैं हाथरस जाऊंगा. जब तक यूपी के मुख्यमंत्री इस्तीफा नहीं दे देते हैं और न्याय नहीं होता है, हमारा संघर्ष जारी रहेगा. मैं सुप्रीम कोर्ट से अनुरोध करता हूं कि घटना पर संज्ञान ले.

14 सितंबर को हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव की रहने वाली 19 वर्षीय दलित लड़की से कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया गया था. लड़की को रीढ़ की हड्डी में चोट और जीभ कटने की वजह से पहले अलीगढ़ के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था. उसके बाद उसे दिल्ली स्थित सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया था, जहां मंगलवार तड़के उसकी मौत हो गई थी. इसके बाद प्रशासन ने जबरन रात में लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया.