सेक्टर एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक सम्पन्न…

पुलिस अधिकारी भ्रमण कर मतदान की व्यवस्थाओं को करें चाक-चौबंद : श्री सिन्हा

ग्वालियर। विधानसभा उप निर्वाचन-2020 स्वतंत्र और निष्पक्ष रूप से हो, इसके लिये सेक्टर अधिकारी और पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन बखूबी करें। मतदान के दिन संयुक्त भ्रमण कर मतदान की व्यवस्थायें सुचारू रूप से चलती रहें, यह सुनिश्चित किया जाए। सुचारू मतदान की जवाबदारी संयुक्त रूप से सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की है। निर्वाचन के दौरान कोई भी कार्य छोटा या बड़ा नहीं है, सभी कार्य महत्वपूर्ण हैं। सौंपे गए दायित्वों का अधिकारी-कर्मचारी निष्ठापूर्वक निर्वहन करें। विधानसभा उप निर्वाचन-2020 के लिये नियुक्त सामान्य प्रेक्षक संजय सिन्हा ने गुरूवार को बाल भवन में सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक में यह बात कही। सामान्य प्रेक्षक संजय सिन्हा ने कहा कि मतदान के दिन सेक्टर मजिस्ट्रेट और पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से अपने-अपने क्षेत्र में भ्रमण करते रहें। किसी भी मतदान केन्द्र पर कोई अव्यवस्था हो तो उसे तत्काल ठीक कराना सुनिश्चित करें। 

आवश्यकता पड़ने पर तत्काल कंट्रोल रूम एवं वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क कर व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्त कराने की जवाबदारी का निर्वहन करें। मतदान केन्द्रों की व्यवस्थाओं को पहले से ही निरीक्षण कर व्यवस्थित कराएँ। मतदान समाप्ति के पश्चात मतदान दल मतदान सामग्री के साथ सुरक्षित और समय पर मतदान सामग्री जमा करें, यह भी सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सभी सेक्टर एवं पुलिस अधिकारियों से कहा कि मतदान केन्द्र की व्यवस्थायें समय रहते पूर्ण हों यह भी सुनिश्चित किया जाए। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी की गई आदर्श आचार संहिता का पालन कराने के साथ-साथ कोविड गाइडलाइन का भी पालन मतदान केन्द्र पर अच्छे से हो, यह भी सुनिश्चित करना सेक्टर और पुलिस अधिकारियों का दायित्व है। उन्होंने कहा कि इस बार मतदान केन्द्र पर मतदान दल के साथ-साथ 4 – 5 अन्य कर्मचारियों को भी तैनात किया गया है। 

यह कर्मचारी कोविड गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित कराने के साथ-साथ सेनेटाइजेशन, थर्मल स्क्रीनिंग करने के साथ मास्क एवं ग्लब्स का वितरण भी सुनिश्चित करेंगे। मतदान केन्द्र पर साबुन एवं हाथ धोने के लिये पानी उपलब्ध हो, यह भी सुनिश्चित किया जाए। सभी केन्द्रों पर समय रहते सूचना बोर्ड भी स्थापित किए जाएं। कलेक्टर श्री सिंह ने यह भी स्पष्ट किया है कि मतदान केन्द्रों पर कोविड गाइडलाइन के पालन हेतु लगाए गए सभी कर्मचारी अपने मताधिकार का उपयोग करें, यह भी सुनिश्चित किया जाए। मतदान के दौरान ही कर्मचारियों को अपने मताधिकार के लिये बारी-बारी से जाने की व्यवस्था बने, यह सेक्टर मजिस्ट्रेट सुनिश्चित करें। कोई भी कर्मचारी अपने मताधिकार के उपयोग से वंचित नहीं रहना चाहिए। कलेक्टर श्री सिंह ने यह भी कहा कि मतदान केन्द्रों पर व्यवस्था के साथ-साथ यह भी प्रयास किए जाएं कि कुछ मतदान केन्द्र मॉडल केन्द्र के रूप में विकसित हों। इन केन्द्रों पर विशेष साज-सज्जा जहाँ संभव हो वहां कराई जाए। 

ऐसे परिसर जिनमें 4 – 5 मतदान केन्द्र हैं वहाँ पर आने वाले मतदाताओं के साथ-साथ व्यवस्थाओं में लगे कर्मचारियों की सुविधाओं को भी ध्यान में रखा जाए। सभी केन्द्रों पर टेंट, कुर्सी, पीने के पानी की व्यवस्था के साथ-साथ साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने-अपने क्षेत्र के सेक्टर मजिस्ट्रेट के साथ मिलकर अपने क्षेत्र का संयुक्त रूप से भ्रमण करें। भ्रमण के दौरान आदर्श आचार संहिता का पालन सुनिश्चित किया जाए। मतदान के दिन भी आने-जाने वाले वाहनों की चैकिंग हो और एक ही वाहन बार-बार लोगों को लाते-लेजाते पाया जाए तो उस पर कार्रवाई की जाए। सभी पुलिस अधिकारी अपने पास सेक्टर मजिस्ट्रेट के साथ-साथ कंट्रोल रूम एवं वरिष्ठ अधिकारियों के नम्बर अवश्य रखें। आवश्यकता पड़ने पर तत्काल आवश्यक सूचनायें प्रदान की जाएँ।