थाटीपुर में आयोजित जनसभा को किया संबोधित…

यह तो ट्रेलर है पिक्चर अभी बाकी है : शिवराज 

ग्वालियर 20 अक्टूबर। भाजपा की सरकार ने विकास के कार्यों में कोई कमी नहीं छोड़ी है। हर क्षेत्र में विकास किया है। कांग्रेस की सरकार में उनके पास ग्वालियर के विकास के लिए तो खजाना खाली था। ग्वालियर का नाम आते ही उनके मुख-मंडल बिगड़ जाते थे, लेकिन छिंदवाड़ा में तो उन्होंने खूब पैसा दिया। ऐसी थी मध्यप्रदेश में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार, जिन्होंने मध्यप्रदेश को बेहाल करके छोड़ा और अब तो पूरी कांग्रेस पार्टी ही बेहाल है। यह बात बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने ग्वालियर पूर्व विधानसभा के थाटीपुर में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ के पास उनके विधायक विकास कार्यों के लिए पैसा मांगने जाते थे तो वे कहते थे कि चलो...चलो..., मुरार के सौंदर्यीकरण के लिए पैसा मांगते थे तो वे कहते थे कि चलो...चलो...। उनके पास विकास कार्यों के लिए पैसा नहीं था, पैसा तो आईफा जैसे अवार्ड कराने के लिए था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मध्यप्रदेश को बर्बाद करने का काम किया है। उनके शासनकाल में कर्मचारियों के लिए पैसा नहीं था, लेकिन भाजपा सरकार ने प्रदेश के कर्मचारियों को केंद्र के कर्मचारियों के समान महंगाई भत्ता दिया है। ७वां वेतनमान दिया है। कर्मचारियों की हर मांग को पूरा करने का काम किया है, लेकिन कांग्रेस ने कर्मचारियों के हितों को हमेशा धक्का ही दिया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी तो जनता ही भगवान है और मैं अपनी भगवान का पूजारी हूं। मैं अपनी भगवान के सामने घूटने टेक कर प्रणाम करता हूं तो पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ कहते हैं कि शिवराज सिंह ने तो जनता के सामने घूटने ही टेक दिए हैं। उन्होंने कहा कि मैं तो जनता के कल्याण और विकास के कार्यों के लिए ही राजनीति में आया हूं। कांग्रेस के शासनकाल में सत्ताधारी विधायकों को धरना करना पड़ा, आंदोलन करना पड़ा, ऐसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री रहने का ही अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी आचार सहिता है, इसलिए घोषणा नहीं कर सकते, लेकिन इतनी विश्वास दिलाता हूं कि ग्वालियर की धरती पर विकास के कार्यों की कोई कमी नहीं रहने देंगे। ग्वालियर की अवैध कालोनियों को वैध करेंगे और लोगों को पट्टे भी देंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और कमलनाथ को तो अब हम सपने में भी दिखाई देते हैं। वे रातभर करवटें बदलते रहते हैं कि यह गरीब किसान का बेटा इतने वर्षों से मुख्यमंत्री है और विकास ही विकास कर रहा है। भाजपा सरकार के विकास कार्य कमलनाथ को रातभर सोने ही नहीं देते हैं। उन्होंने तो कोई विकास किया नहीं और हम कर रहे हैं तो उन्हें वह भी उन्हें नहीं भा रहा है। कहते हैं कि शिवराज सिंह तो हाथ में नारियल लेकर चलता है अब नारियल लेकर न चलूं तो क्या शराब की बोतल लेकर चलूं।