दिवाली के लिए घरों में होता है आतिशबाजी का निर्माण…

डबरा के सिमरिया में धमाके की गूंज से दहला इलाका

डबरा के सिमरिया गांव में उस समय अफरा-तफरी का माहौल बन गया जब एक मकान में धमाके की गूंज के साथ मोहल्ला दहल गया| धमाके की आवाज के साथ लोग उस मकान पर पहुंचे तो देखा तीन महिलायें गंभीर घायल हो गई थी जिन्हें तत्काल इलाज के लिए ग्वालियर भेजा गया यह धमाका आतिशबाजी में हुआ था| जिसका निर्माण इस मकान में किया जा रहा था |

घटना कासिम खान के घर में घटी। बता दें कि डबरा के देहात थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सिमरिया गांव में अधिकांश मुस्लिम परिवार आतिशबाजी निर्माण का कार्य करते हैं | दीपावली आने को है यही कारण है कि एक बार फिर से आतिशबाजी निर्माण के कार्य ने जोर पकड़ लिया है | जिस मकान में विस्फोट हुआ है वह कासिम खान का बताया जा रहा है| विस्फोट इतना बड़ा था कि मकान की पटिया धराशाई होकर जमीन पर गिर पड़ी | जिसमें 3 महिलाओं सलमा,रूक्सार और आफ़रीन के घायल होने की खबर आ रही है|

ग्रामीणों ने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी तो पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी तत्काल मौके पर पहुंचे पर तब तक घर के अन्य सदस्य घायलों को लेकर समुचित उपचार के लिए ग्वालियर ले जा चुके थे | बताया जा रहा है कि सभी को ग्वालियर में भर्ती करा दिया गया है| पुलिस के पहुंचने पर उन्हें मकान पर कोई भी नहीं मिला सबसे बड़ी बात है कि यह है कि यह कोई पहली घटना नहीं है जब सिमरिया गांव में इस तरीके का विस्फोट हुआ हो|

इससे पूर्व भी यहां इस तरीके की घटनाएं हो चुकी है फिर भी प्रशासनिक अधिकारी हर बार सिर्फ दीपावली के अवसर पर अपनी खानापूर्ति करते हैं फ़िलहाल इस घटना से प्रशासन को सबक लेते हुए गांव में जो अन्य लोग आतिशबाजी निर्माण का कार्य करते हैं उनके घरों की तलाशी लेनी चाहिए और साफ तौर पर समझाइश देनी चाहिए नहीं तो कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है जिसमें कई लोगों की जान जा सकती है जिसका जिम्मेदार प्रशासन होगा।