रिकवरी रेट भी हुआ कम…
एक्टिव केस के मामले में इंदौर से आगे निकला भोपाल

भोपाल कोरोना संक्रमित एक्टिव मरीजों के मामले में इंदौर को भी पीछे छोड़ते हुए प्रदेश में पहले नंबर पर आ गया है। अब यहां पर 2177 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है, जबकि इंदौर में यह संख्या 2060 है। यही नहीं, भोपाल का रिकवरी रेट इंदौर से करीब 4.15% कम है। भोपाल में यह स्थिति पिछले 10 दिन में 1978 संक्रमितों के मिलने के कारण बनी है। 

हालांकि पॉजिटिव मरीजों की संख्या इंदौर में अब भी ज्यादा है। इंदौर में अब तक 7555 कुल पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं, जबकि भोपाल में यह संख्या 6950 है। स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव फैज अहमद किदवई का कहना है कि नए कोविड अस्पताल बनाए गए हैं। क्वारेंटाइन सेंटर की संख्या भी बढ़ाई गई है। फीवर क्लीनिक और टेस्टिंग बढ़ाने से संक्रमित जल्द सामने आ रहे हैं।

लॉकडाउन के पहले नियमों का ठीक से पालन नहीं किया। यही वजह है कि भोपाल में एक्टिव केस बढ़े हैं। लोगों को अपनी जिम्मेदारी समझना होगी नहीं तो फिर मामले बढ़ेंगे। - डॉ. लाेकेंद्र दवे, भोपाल