राजनीतिक जगत में शोक की लहर…
मध्यप्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का लखनऊ में निधन

भोपाल। मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन (85) का मंगलवार सुबह 5.30 बजे निधन हो गया। टंडन को 11 जून को सांस लेने में तकलीफ और बुखार के चलते लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सोमवार शाम अस्पताल की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन में उनकी हालत क्रिटिकल बताई गई थी। आज शाम 4.30 बजे उनका लखनऊ में अंतिम संस्कार होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उनके निधन पर दुख जताया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने 3 दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है।

एमपी के राज्यपाल के निधन पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर गहरा दु:ख व्यक्त किया है. पीएम ने कहा उनके योगदान को बीजेपी में कभी नहीं भुलाया जाएगा.

एमपी के राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी दु:ख जताया है. उन्होंने कहा कि टंडनजी के साथ मुझे लंबे समय तक काम करने का अवसर मिला. उनका अलग सार्वजनिक जीवन जनता के बीच समर्पित रहा और उन्होंने अपने काम से एक अलग छाप छोड़ी.
 
राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह ने भी दु:ख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वे दिवंगत आत्मा को शांति दें और शोकाकुल परिजनों को इस वज्रपात को सहने की शक्ति प्रदान करें.
 
राज्यपाल लालजी टंडन के निधन पर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी दु:ख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि परमपिता परमात्मा से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में स्थान प्रदान करें.