राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम पर दी प्रतिक्रिया…
पार्टी में युवा नेताओं को नहीं पनपने देते राहुल गांधीः उमा भारती

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की वरिष्ठ नेत्री उमा भारती ने राजस्थान में चल रहे सियासी घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में जो घटा और राजस्थान में जो घटेगा, उसके लिए राहुल गांधी जिम्मेदार हैं। क्योंकि राहुल गांधी युवा नेताओं को कांग्रेस में पनपने नहीं देते हैं। राहुल गांधी पार्टी में जिस प्रकार का माहौल बना देते हैं। उससे आपस में फूट पड़ती है और उस फूट को नियंत्रित करने का सामर्थ्य राहुल गांधी में नहीं है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी अपने नेताओं को संभाल नहीं पा रहे हैं और दोषी हमें ठहराते हैं। 

यह तो वहीं बात हो गई- नाच न जाने, आंगन टेढ़ा। राहुल गांधी को अपनी पार्टी के युवा नेताओं से जलन होती है। उन्हें लगता है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया और सचिन पायलट जितने पढ़े-लिखे हैं। इन्हें बड़े पद दिए गए तो कांग्रेस में वे पीछे रह जाएंगे। उनकी इसी ईर्ष्या की शिकार पूरी कांग्रेस पार्टी हो गई है। उमा भारती ने कहा कि जब सचिन पायलट या अन्य कोई भी कांग्रेस नेता भाजपा में आएगा तो पार्टी उनका सम्मान करेगी, क्योंकि भाजपा में सबके लिए स्थान है। यहां किसी से ईर्ष्या नहीं होती। उन्होंने आरोप लगाया कि राहुल गांधी की ईर्ष्या ही कांग्रेस के विनाश का कारण है। 

जब तक गांधी परिवार कांग्रेस में दखल देना बंद नहीं करेगा। तब तक ऐसा ही होता रहेगा। उमा भारती भगवान महाकाल के दर्शन कर उज्जैन से मध्य प्रदेश के सीहोर में प्राचीन चिंतामन गणेश मंदिर पहुंचीं थीं। यहां उन्होंने पूजा-अर्चना की। सीहोर से वे भोपाल लौट गईं। उमा भारती ने कहा कि मलहरा से विधायक रहे प्रद्युम्न सिंह लोधी भाजपा के ही थे। उन्हें पिछली बार भाजपा से टिकट नहीं मिला था इसलिए वह कांग्रेस में चले गए थे। मंत्रिमंडल में विभागों के बंटवारे में सिंधिया गुट को महत्व मिलने के सवाल पर उमा भारती ने कहा कि अब वह किसी गुट के नहीं हैं। सब भाजपा के ही हैं।