मुरार में सेना एवं अर्धसेना के रिटायर्ड सेनानियों द्वारा…
गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों को दी भावभीनी श्रद्धांजलि 

राणा निवास पवन सुत कालोनी हरावली मुरार में सेना एवं अर्धसेना के रिटायर्ड सेनानियों द्वारा गलवान घाटी में शहीद हुए सेना जवानों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस मौके पर स्थानीय पार्षद धर्मेन्द्र राणा ने  शोक सभा में हुए लोगों को चाइना निर्मित उत्पादों का पुर्णतया बहिष्कार की शपथ दिला शहीदों को नमन किया। 

स्थानीय विधायक मुन्ना लाल गोयल ने भेजे शोक संदेश में कहा कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा और इस शहादत का बदला भारतीय सेना अवश्य लेंगी । प्रदेश संयोजक जयेंद्र सिंह राणा ने कहा कि आज पूरा राष्ट्र माननीय प्रधानमंत्री जी के पीछे खड़ा है ।

समय की मांग "20 के बदले 200 शीश लाएं जाए " चालाक चीन पर एयर स्ट्राइक का जमकर प्रहार किया जाए ताकि दुश्मन इस प्रकार का दुस्साहस दुबारा ना कर सके। महासचिव रणबीर सिंह ने विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कहा कि जब सरकार धारा 370 नासूर जैसे काले कानून को बदल सकती है तो फिर 1995 में हुए चीनी समझोते को क्यों ना रद्द किया जाए ओर 1962 में हड़पे गए अक्साई चिन पर दावा ठोका जाए। 

इस अवसर पर कैप्टन जगदीश यादव, सुबेदार जोगेंदर सिंह, रामजस यादव, राजा सिंह, भोपाल सिंह, जगदीश यादव, पुर्व सरपंच स्वतन्त्र सिंह , वरिष्ठ समाजसेवी अजमेर सिंह राणा, भगवान सिंह वकील, हेमेंद्र जाट शिक्षक व अन्य गणमान्य नागरिकों ने शहीदों को नमन श्रध्दांजली दी गई ।