20वीं पुण्यतिथि पर मुखर्जी भवन में हुई श्रद्धांजलि सभा…
नई पीढ़ी के लिए सदैव प्रेरणापुंज रहेंगे स्व. पातीराम जैन : शेजवलकर
ग्वालियर। प्रखर समाजसेवी एवं वरिष्ठ भाजपा नेता स्व. पातीराम जी जैन की 20 वीं पुण्यतिथि पर आज भाजपा जिला मुख्यालय, मुखर्जी भवन पर 20वें श्रमवीर सम्मान समारोह तथा स्मृति सभा का आयोजन किया गया। सांसद विवेक नारायण शेजवलकर के मुख्यातिथ्य, भाजपा के जिलाध्यक्ष कमल माखीजानी की अध्यक्षता, पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल, नगर निगम के पूर्व सभापतिगण गंगाराम बघेल एवं राकेश माहौर के विशिष्ट आतिथ्य में आयोजित कार्यक्रम में सभी ने स्व. पातीराम जैन द्वारा ग्वालियर के सर्वांगीण विकास, गरीब जरूरतमंदों की सेवा, उनकी समस्याओं के निराकरण एवं व्यापार-व्यवसाय क्षेत्र को निर्बाध बनाने के लिए किए गए अथक प्रयासों का पुण्य स्मरण करते हुए उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की। 

मुख्य अतिथि सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने अपने उदबोधन में कहा कि नई पीढ़ी के राजनीतिक कार्यकर्ताओं एवं सामाजिक संगठनों को स्व. पातीराम जैन के जीवन एवं कृतित्व से इस बात के लिए प्रेरणा लेना चाहिए कि उन्होंने सत्ता, समाज एवं संगठन में जबरदस्त पकड़ रखने के बावजूद स्वयं के लिए लाभोपार्जन करने के बजाए अपनी शक्ति एवं सामर्थ्य का इस्तेमाल समाज के वंचित वर्ग की सेवा एवं उन्हें खुशियां समर्पित करने के लिए किया। सांसद शेजवलकर ने कहा कि स्व. पातीराम जी निःस्वार्थ कर्मयोगी थे जो अपनों के बजाए दूसरों की चिन्ता करते थे। भाजपा जिलाघ्यक्ष कमल माखीजानी ने कहा कि उन जैसे सैकड़ों कार्यकर्ता स्व. पातीराम जी जैसे महामनीषियों से प्रेरणा लेकर ही जनसेवा का संकल्प लेकर सार्वजनिक जीवन में आए थे। नगर निगम के पूर्व सभापति गंगाराम बघेल ने कहा कि स्व. पातीरामजी में जबरदस्त अपनत्व की भावना थी, वे औपचारिकता एवं प्रोटोकाल से परे जाकर कार्यकर्ताओं से हदय से स्नेह करते थे। 

यदि कोई कार्यकर्ता मुसीबत में फंसता था तो उसकी मदद के लिए स्व. पातीरामजी की ही ओर देखा जाता था। इमरजेंसी के दौरान जेल में बंद कार्यकर्ताओं के परिजनों की मदद से लेकर संकटग्रस्त परिवारों तक खाना पहुंचाने का जिम्मा वे ही संभालते थे। पूर्व सभापति राकेश माहौर ने कहा कि यद्धपि उन्हें राजनीति मेें चाचा का ज्यादा सानिध्य नहीं मिल सका लेकिन उन्होंने पार्षद एवं सभापति के रूप में कार्य करते हुए पातीराम चाचा के सिद्धांतों एवं आदर्शों को सर्वोपरि रखा है। पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल ने कहा कि आज हम ग्वालियर का जो सुविकसित स्वरूप देख रहे हैं, वह स्व. पातीराम जी जैन जैसे सच्चे जनसेवकों के प्रयासों का ही सुफल है। इस अवसर पर कर्मठता, ईमानदारी एवं लगन के साथ कर्मक्षेत्र में जुटे पांच श्रमवीरों को 20वें श्रमवीर सम्मान से अलंकृत किया गया। सांसद शेजवलकर एवं अन्य अतिथिगण ने जिन श्रमिकों को श्रमवीर सम्मान से अलंकृत किया, उनमें दिव्यांग चालक धर्मेन्द्र कुशवाह, स्कूल के भृत्य ननटुन चौधरी, चौकीदारी का काम करने वाले गयाप्रसाद टैगोर, पल्लेदार बाबूलाल रजक एवं ठेला पल्लेदार शेर सिंह शामिल हैं।

सभी को शॉल, श्रीफल, सम्मान निधि भेंटकर सम्मानित कर सभी को सुदीर्घ, यशस्वी जीवन के लिए शुभकामनाएं दी गईं। समारोह के समापन पर सभी ने स्व. पातीराम जैन के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धाभाव के साथ नमन किया। कार्यक्रम का संचालन मदद समाजसेवी संस्था के अध्यक्ष निर्मल जैन एवं आभार प्रदर्शन मप्र चेम्बर ऑफ कॉमर्स के मानसेवी सचिव डॉ. प्रवीण अग्रवाल ने किया। पुष्पांजलि कार्यक्रम में मोहन विटवेकर, अशोक बांदिल, विवेक जोशी, विनोद शर्मा, पवन गणफुले, अंतर्राष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के आरके गुप्ता, चेम्बर के कोषाध्यक्ष वसंत अग्रवाल, अभिभाषक मंच के एड. विजयसिंह चौहान, पं. राजेश्वर राव, पूर्व वरिष्ठ पार्षद अशोक गेंड़ा अनिल त्रिपाठी, अचलेश्वर न्यास के अध्यक्ष हरीदास अग्रवाल, ग्वालियर लोहा व्यवसायी संघ के अध्यक्ष संजय कट्ठल, दीपक अग्रवाल,, जीवाजी क्लब के पूर्व सचिव राजेन्द्र सेठ, सोमेश महंत, दीपक शर्मा, पारस जैन, तीरथ मिश्रा, संजय चुग, संदीप बंसल, नरेन्द्र मंगल, रमाकांत महते, हेमंत शर्मा, आदेश गुप्ता, उमेश साहू, महेन्द्र जैन, नरेन्द्र छिरौल्या, दीपक जैन, बेटू पाण्डे, राजेश दुबे, विकास गोयल, सुनील श्रीवास्तव सहित सैकड़ों लोगों की उपस्थिति रही। 

कार्यक्रम संयोजक निर्मल कुमार जैन ने बताया कि मदद संस्था अपने प्रेरणास्त्रोत स्व.पातीराम जैन की पुण्य स्मृति में पिछले 20 वर्ष से श्रमवीर सम्मान समारोह का निरंतर आयोजन कर रही हैं। मदद समाजसेवी संस्था द्वारा अपने प्रेरणास्त्रोत स्व. पातीराम जैन की पुण्य स्मृति में आयोजित किए जा रहे कार्यक्रमों की श्रृंखला में कल सोमवार, 22 जून को प्रातः 8 बजे हॉस्पीटल रोड पर फलदार एवं छायादार पौधे लगाए जाएंगे। ज्ञातव्य है कि स्व. पातीराम जैन की स्मृति में उनकी पुण्यतिथि के द्वितीय दिवस पर मदद संस्था द्वारा हॉस्पीटल रोड पर वृक्षारोपण किया जाता है। यह अभियान इसलिए प्रारंभ किया गया था ताकि हॉस्पीटल रोड से गुजरने वाले मरीजों, उनके परिजनों तथा अन्य राहगीरों को गर्मी के मौसम में छाया प्राप्त हो सके। कभी इस मार्ग पर एक भी वृक्ष नहीं था, मदद संस्था द्वारा वर्षों पहले लगाए गए पौधे अब वृक्ष बन चुके हैं।