केंद्र ने केरल सरकार से मांगी डिटेल रिपोर्ट…
गर्भवती हथिनी को पटाखा खिलाकर मारने पर फूटा लोगों का गुस्सा

केरल के पलक्कड जिले के साइलेंट वैली फॉरेस्ट में एक प्रेग्नेंट हथिनी को पटाखे से भरा अनानास खिलाने की घटना पर केंद्र सरकार ने संज्ञान लिया है. केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने केरल सरकार से इस मामले में डिटेल रिपोर्ट मांगी है. वहीं, केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने हथिनी की मौत के मामले में जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाया है. पटाखे खा लेने की वजह से हथिनी के मुंह और पेट में चोटें आईं थीं और तीन दिन बाद इसकी मौत हो गई थी. 

घटना को लेकर लोगों में जबरदस्त आक्रोश है.मुख्यमंत्री पिनराई विजयन  ने कहा कि पलक्कड जिले के मन्नारकड़ वन मंडल में हथिनी की मौत मामले में प्रारंभिक जांच शुरू कर दी गई है. इसके साथ ही पुलिस को घटना के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं. इस मामले की जांच वन्यजीव अपराध जांच दल की एक टीम को सौंपी गई है.

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली, टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा, भारतीय जनता पार्टी के सांसद बाबुल सुप्रियो सहित कई लोगों ने केरल में गर्भवती हथिनी की मौत पर अपना गुस्सा और अफसोस जाहिर किया है. कोहली ने ट्वीट कर इस घटना की कड़ी निंदा की और कहा कि केरल में जो कुछ हुआ उसके बारे में सुनकर बहुत आहत हूं. रतन टाटा ने ट्विट किया, 'इस घटना से मैं काफी हैरान और स्तब्ध हूं, बेगुनाह जानवरों के साथ ऐसे आपराधिक काम इंसानों की हत्या से अलग नहीं हैं.