मुख्यमंत्री ने दिया प्रदेश की जनता को संदेश…
कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ, 2 गज की दूरी रखकर संक्रमण से करें सुरक्षा : शिवराज

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा के लिए पूरी सावधानियां रखें  अभी कोरोना खत्म नहीं हुआ है, जरूरत के लिए बाजार और अन्य गतिविधियां शुरू कर दी गई है। प्रदेश की अर्थव्यवस्था और लोगों के जीवन यापन की दृष्टि से अनलॉक वन में कई तरह की छूट दी गई है, लेकिन छूट के बाद  कहीं-कहीं ऐसे मामले भी सामने आ रहे हैं, जहां गाइडलाइन का पालन नहीं किया जा रहा।मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आमजन से अपील की है कि पर्याप्त सावधानियाँ जैसे 2 गज की दूरी, फेस  मास्क का उपयोग, बार-बार हाथ धोने, सार्वजनिक जगहों पर न थूकने और लोगों से हाथ मिलाने की बजाए नमस्ते करने जैसे उपायों पर अमल किया जाए। 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी ने भी कहा है जान है तो जहान है। अभी निरंतर सतर्क और सजग रहने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश की जनता को संदेश देते हुए बताया कि 23 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद उन्होंने तत्काल ही सभी आवश्यक कदम उठाकर कोरोना से लोगों के बचाव के प्रयास प्रारंभ किए। शीघ्र से शीघ्र टेस्टिंग लैब, पर्याप्त मास्क, पीपीई किट, ऑक्सीजन सिलेंडर, हाईड्रॉक्सी क्लोरोक्वीन टेबलेट की व्यवस्था सुनिश्चित की गई। हर जिले में कॉविड अस्पताल बनाए गए। आज प्रदेश में 21 टेस्टिंग लैब और प्रतिदिन छह हजार टेस्ट की क्षमता विकसित हो चुकी है। 

आईसीयू  और बेड व्यवस्था का एक तिहाई  ही उपयोग हो पा रहा है। प्रदेश का कोरोना से रिकवरी रेट देश के शीर्ष राज्यों में शामिल है और देश के औसत रिकवरी रेट से भी अधिक है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आमजन को कोई दिक्कत न हो इसलिए सभी जरूरी वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है। प्रवासी मजदूर भाइयों की वापसी के सभी इंतजाम किए गए। गरीबों मजदूरों और जरूरतमंदों के लिए राशन, भोजन और रहने आदि की व्यवस्था की गई  मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आमजन से अपील की है कि कोराना से बचाव पर ध्यान दें,  लापरवाही न करें। सभी सावधानियों का पालन करें और साहस के साथ आगे बढ़ते हुए मध्यप्रदेश को कोरोना वायरस मुक्त बनाने में सहयोग करें।