मंत्री ने किया रक्त वीरों का सम्मान…
रक्तदान सबसे बड़ा पुण्य कार्य है : श्री मिश्रा

ग्वालियर। गृह एवं लोक स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा आज दतिया प्रवास के दौरान जिला चिकित्सालय में आयोजित विश्व रक्तदान दिवस शिविर में सम्मिलित हुए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को रक्तदान करना चाहिए। रक्तदान करना मानव जीवन का सबसे बड़ा पुण्य का कार्य है, जिससे हम दूसरों की जान बचा सकते हैं। मंत्री ने कहा कि हम सोचते हैं कि रक्तदान करने से हमें कमजोरी आती है। यह भ्रांति भी दूर होती जा रही है तथा रक्तदान करने से हम गरीब और जरूरतमंद लोगों की मदद कर सकते हैं। 

गृह एवं लोक स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जिला चिकित्सालय में हर सुविधा उपलब्ध है। कोई भी मरीज इस चिकित्सालय में दूसरी जगह नहीं जा सकता है। किन्तु जिला चिकित्साल में पदस्थ डॉक्टर्स की जिम्मेदारी है कि अपने कर्तव्य का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि जो भी मरीज अस्पताल में आता है उससे अच्छा व्यवहार करें एवं अपनी पूरी ताकत से सेवा भाव से उनका इलाज करें। कार्यक्रम के दौरान उन्होंने रक्तदान करने वाले समिति एवं संगठनों के पदाधिकारियों का शॉल श्रीफल एवं स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मान किया। कार्यक्रम के अंत में गृह एवं लोक स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मिश्रा ने उपस्थित सभी लोगों को रक्तदान करने की शपथ दिलाई। 

रक्तदान शिविर में समिति एवं संगठनों द्वारा गृह एवं लोक स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मिश्रा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर मानेवन्द्र तोमर, क्रिश भमवानी, जॉली शुक्ला, रिंकू बुंदेला, आशुतोष मिश्रा, पुनीत टिलवानी, प्रदीप पाठक, अकबर अली, अजय जैन, डॉ. एस.एन. उदयपुरिया, डॉ. दिनेश गुप्ता, डॉ. जयभारत सिंह, डॉ. ए.के. जैन, डॉ. विजय चैधरी, डॉ. एस.एन. शाक्य उपस्थित थे।