MP का 52वां जिला भी संक्रमित…
2 कोरोना पॉजिटिव मिलने से प्रशासन में हड़कंप
सांकेतिक तस्वीर

भोपाल। लॉकडाउन के अनलॉक होते ही कोरोना वायरस ने एमपी में तेजी से पैर पसारना शुरु कर दिया है। खास करके उन जिलों में जहां दस से कम कोरोना पॉजिटिव थे या फिर जहां एक भी पॉजिटिव केस नही था। अब मध्य प्रदेश का एकमात्र कोरोना मुक्त निवाड़ी जिला भी कोरोना की चपेट में आ गया है। अब प्रदेश के सभी 52 जिले संक्रमित हो चुके हैं।इधर प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव का आंकड़ा 11 हजार के करीब पहुंच गया है।

दरअसल, गुरुवार को आईं सैंपल रिपोर्ट में दिल्ली से आए दो युवक पॉजिटिव मिलने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है। दोनों युवकों के गांव आने पर ग्रामीणों ने इसकी सूचना कोरोना कंट्रोल रूम में दी थी। सूचना मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 4 जून को जुगयाई पहुंच कर दिल्ली से आए लोगों को एंबुलेंस से लाकर लड़वारी में क्वारेंटाइन सेंटर में रख दिया था।  दोनों मरीजों को आईसोलेट कर उनकी ट्रेवल हिस्ट्री व कॉन्ट्रेक्ट हिस्ट्री जुटाई जा रही है, वही इनके संपर्क में आए लोगों को क्वारेंटाइन किया जा रहा है।

बताया जा रहा है कि दिल्ली में मजदूरी का काम करने वाले 6 मजदूर 3 जून को बस के माध्यम से झांसी आए थे। जिनमें 4 ग्राम सिमरा तथा दो जुगयाई के निवासी है। यह लोग निवाड़ी से होते हुए टैक्सी से ग्राम जुगयाई अपने रिश्तेदार के यहां चले गए।वही इन मजदूरों ने प्रशासन से काफी कुछ जानकारी छिपाई है। वास्तव में यह आठ लोग दिल्ली से आए थे, लेकिन उन्होंने प्रशासन को छह लोगों के आने की सूचना दी थी। सभी लोग बस से आये थे, लेकिन रेल से आने की जानकारी दी।

इधर, मध्य प्रदेश देश के 10 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित वाले राज्यों में शामिल हो गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 10,049 हो गई है और मृतक संख्या 427 हो गई है। अच्छी बात यह है कि प्रदेश में 10 हजार से ज्यादा संक्रमित होने के बावजूद सक्रिय केस 2730 ही हैं। अब तक 6892 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।