कोरोना योद्धाओं का सैन्य अधिकारियों ने किया सम्मान…

संकट के समय सभी के प्रयास आवश्यक हैं : कलेक्टर 


ग्वालियर। नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए अपने दायित्वों का निर्वहन करने वाले कोरोना योद्धाओं का कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में सेना के अधिकारियों ने सम्मान किया। ग्वालियर में जिन मैदानी अधिकारियों और कर्मचारियों ने कोरोना वायरस की रोकथाम में रात-दिन मेहनत की है, उन्हें सेना के अधिकारियों ने सम्मानित कर स्मृति चिन्ह भी भेंट किया।

नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में लगे कोरोना योद्धाओं का सम्मान नगर के नागरिक भी कर रहे हैं। इसके साथ ही देश के सैनिकों ने भी कोरोना योद्धाओं का सम्मान करने का कार्य किया है। कलेक्ट्रेट में आयोजित इस कार्यक्रम में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, ब्रिगेडियर सुशीन्द्र विश्वास, कर्नल राकेश थापा, कर्नल शिवनील गांगुली, मेजर मनीष चौहान सहित सीईओ जिला पंचायत शिवम वर्मा, अपर कलेक्टर अनूप कुमार सिंह, एडीएम किशोर कन्याल, सीईओ स्मार्ट सिटी जयति सिंह एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

सम्मान समारोह में कोरोना योद्धाओं के रूप में अपर कलेक्टर नगर निगम नरोत्तम भार्गव, एसडीएम अनिल बनवारिया, डिप्टी कलेक्टर दीपशिखा भगत, तहसीलदार शिवानी पाण्डेय, एडिशनल सीईओ विजय दुबे, परियोजना अधिकारी अनुपम शुक्ला, पैथोलॉजिस्ट डॉ. हरेन्द्र सिंह, एएसओ सत्येन्द्र शर्मा, फार्मासिस्ट प्रशांत सक्सेना, डीसीएम मो. शरीफ खान, वसीम राजा खान सहित स्वास्थ्य, नगर निगम, जिला प्रशासन के मैदानी कर्मचारियों का भी सम्मान किया गया।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने कार्यक्रम में कहा कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम हेतु जिले में सभी शासकीय अधिकारियों-कर्मचारियों ने बड़ी मेहनत से अपने दायित्वों का निर्वहन किया है। इसके साथ ही जिले के जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संस्थाओं, मीडिया के साथियों के साथ-साथ नगरवासियों ने भी नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया है। सभी के अथक प्रयास के कारण ही हमारा जिला नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण से बहुत हद तक बच पाया है। उन्होंने कहा कि हमारी लड़ाई अभी समाप्त नहीं हुई है हमें अभी और लड़ाई लड़ना बाकी है। संक्रमण की रोकथाम के लिये केवल शासकीय प्रयास ही पर्याप्त नहीं है। सभी नागरिकों का सहयोग भी जरूरी है।

कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के निवासियों से यह भी अपील की कि नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये वे अपने घरों पर ही रहें। अनावश्यक रूप से घर के बाहर न निकलें। संक्रमण के संबंध में कोई भी जानकारी अथवा सूचना हो तो तत्काल कंट्रोल रूम पर सूचित करें। नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम की जवाबदारी हर नागरिक की है। सेना के अधिकारियों ने भी नोवेल कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये कार्य कर रहे सभी कोरोना योद्धाओं के कार्य की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि संकट के समय सभी को मिलकर कार्य करना आवश्यक है। ग्वालियर जिले में नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिये किए जा रहे कार्य प्रशंसनीय है।