कोरोना महामारी के समय...
जनता को आ रही परेशानी पर, सभी विपक्षी दलों ने मुख्यमंत्री  को सौंपा ज्ञापन

ग्वालियर। इस महामारी में  जरूरतमंद जनता के लिए को राहत पहुचाने के काम को प्राथमिकता देने के बजाए उपचुनाव की तैयारी की जा रही है। राशन वितरण में पारदर्शिता बरतने गए सर्वदलीय राहत समितिया ना बनाकर सत्ताधारी लोगो के जरिये राशन वितरण का काम किया जा रहा है। नतीजा यह हुआ है की बड़े पैमाने पर ऐसे लोग है जिन्हें सरकारी राशन उपलब्ध नही हो सका है, जिससे लोग भुखमरी का शिकार हो रहे है, दूसरी ओर बहुत बड़े पैमाने पर राशन घोटाला होने की आशंका है। 

ग्वालियर के विभिन्न राजनीतिक दल के नेताओ मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के अखिलेश यादव, आम आदमी पार्टी के शैलेन्द्र सिंह भदौरिया, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के अशोक पाठक, भाकपा (माले) राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी सुरेंद्र जायसवाल जनाधिकार पार्टी के सुग्रीव सिंह कुशवाह, राष्ट्रीय समानता दल के गौतम सिंह राजपूत,भारतीय अपना अधिकार पार्टी के बादाम सिंह राजपूत, भारतीय राष्ट्रीय मजदूर दल के विशाल कितकिरिया, सामाजिक संगठन हेलो ग्वालियर के  हिमांशु कुलश्रेष्ठ आदि ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में कहा है कि इस महामारी में जनता को राशन उपलब्ध कराने में सरकार और जिला प्रशासन विफल साबित हुआ है। 



उपरोक्त सभी ने मिलकर एडीएम किशोर कन्याल जी को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा जिसमें भारतीय अपना अधिकार पार्टी की ओर से बादाम सिंह राजपूत राष्ट्रीय अध्यक्ष आम आदमी पार्टी की ओर से शैलेन्द्र सिंह भदौरिया जिला अध्यक्ष ग्वालियर एवं अन्य सभी पार्टी के पदाधिकारियों ने मिलकर ज्ञापन सौंपा।

सहमत दल-
1- Communist Party
2- Aam Aadmi Party
3- National Congress Party
4- Bhartiya Apna Adhikar Party
5- Jan Adhikar Party