आज सरकार जारी करेगी गाइडलाइन्स…
देश के 30 जिलों में सख्त लॉकडाउन रहेगा जारी

नई दिल्ली। देश के 10 राज्यों के 30 नगर निगम/जिले/शहर कोरोना को लेकर देश के लिए चुनौती बने हुए हैं. इन इलाकों में देश में सबसे तेजी से कोरोना संक्रमण फैल रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश के 80 फीसदी कोरोना संक्रमण के मामले इन्हीं 30 नगरीय निकायों के दायरे में आते हैं. 

देश में कोरोना संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित नगरीय निकायों के अधिकारियों के साथ शनिवार को हेल्थ सेक्रेटरी ने बैठक की. बैठक में संक्रमण को रोकने को लेकर विस्तृत चर्चा हुई. इस बैठक में हेल्थ सेक्रेट्री प्रीती सुदन के अलावा इन 30 नगरीय निकायों के कमिश्नर, जिला कलेक्टर और संबंधित राज्यों के प्रिंसिपल सेक्रेटरी शामिल हुए. इस दौरान पुराने शहर के इलाकों, शहरी झुग्गियों, प्रवासी कामगारों के शिविरों और घनी आबादी वाले इलाकों में निगरानी पर जोर दिया गया. 

देश में सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित 30 नगर निगम महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्ली, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, गुजरात और उड़ीसा में है. बैठक के दौरान ठीक होने के प्रतिशत में सुधार के लिये मरीज की समय पर पहचान और इंफ्लुएंजा जैसी बीमारी (आईएलआई)/सांस के गंभीर संक्रमण पर ध्यान देने पर जोर दिया गया.  बैठक में जिलों में संक्रमण की स्थिति क्या है, इसको लेकर प्रेजेंटेशन दिया गया. साथ ही हाई रिस्क फैक्टर क्या-क्या हैं, उसको लेकर गहन मंथन किया गया.

इन 30 नगर निकायों के अधिकारियों को कंटेनमेंट जोन में हाई डबलिंग रेट को कैसे मैनेज करें, इस बारे में बताया गया है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, "यह सामने आया है कि इन घनी आबादी वाले इलाकों में सीमित स्वास्थ सुविधाएं हैं, सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल नहीं रखा जा रहा है. महिलाओं के सामने कई चुनौतिया हैं."

देशभर में अब तक 30,150 लोग बीमारी से ठीक हो चुके हैं और बीते 24 घंटे की बात करें तो 2,233 मरीज ठीक हुए हैं जो एक दिन में ठीक होने वालों की सबसे ज्यादा संख्या है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इससे ठीक होने की दर अब 35.09 प्रतिशत हो गई है. देश में संक्रमण के कुल मामले 85,940 हैं जिनमें से बीते 24 घंटे के दौरान 3,970 मामले सामने आए हैं.