सिंधिया की गुमशुदगी के पोस्टर पर बोलीं…
महाराज गुम नहीं हैं 1 को आएंगे ग्वालियर : इमरती देवी

ग्वालियर। कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा ग्वालियर में ज्योतिरादित्य सिंधिया की गुमशुदगी का पोस्टर लगाने के मामले में पूर्व मंत्री इमरती देवी ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा, 'महाराज कहीं नहीं गुमशुदा हुए हैं. लगातार उनके निर्देश पर हम लोग कोरोना संकट में लोगों की मदद कर रहे हैं. वह एक जून को ग्वालियर आएंगे.'

इमरती देवी ने कहा, 'जो कांग्रेसी महाराज के नाम पर चुनाव जीत जाते थे अब उन्हें अपनी जीत का डर सता रहा है.' पोस्टर चिपकाने के मामले में पुलिस के स्वत: संज्ञान लेकर केस दर्ज करने के सवाल पर इमरती देवी ने कहा, 'मेरी मांग है कि जिन लोगों ने कमलनाथ-नकुलनाथ के पोस्टर लगाए उनके खिलाफ भी मामला दर्ज हो, प्रशासन किसी के दबाव में काम नहीं कर रहा है.'

इस बीच महल गेट चौराहे पर ज्योतिरादित्य सिंधिया की गुमशुदगी के पोस्टर लगाने के मामले में कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सहित तीन नेताओं को जिला न्यायालय से जमानत मिल गई. 

पुलिस ने कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह राजावत और कांग्रेस नेताओं अभिषेक भदौरिया और जवान सिंह के खिलाफ सिंधिया की गुमशुदगी का पोस्टर चिपकाने के मामले में झांसी रोड थाने में आईपीसी की धारा 188 व 505 (1C) के तहत केस दर्ज किया था. जिला न्यायालय ने आर्टिकल 19 का हवाला देते हुए कांग्रेसी नेताओं को 25-25 हजार के निजी मुचलके पर जमानत दे दी.