सैकड़ो पत्रकार जरूरतों की पूर्ति के लिए हो रहे परेशान…

पत्रकारों की परेशानी पर भी ध्यान दीजिए सरकार

                                

कोरोना वायरस के खतरे के बीच सीमित संसाधनों के साथ पूरी जिम्मेदारी से रिपोर्टिंग कर समाचारों के माध्यम से लोगो को जागरूक करने कार हमारे पत्रकार साथियों द्वारा किया जा रहा है। जहां कोरोना फाइटर्स के अन्य लोगों के हितों का ध्यान शासन रख रहा है, वही पत्रकारों के लिए सरकार ने अभी तक उन्हें कोई भी राहत पहुचाने वाला एलान नही किया है।

शासन को पत्रकारों की जरूरतों को भी ध्यान में रखना अति आवश्यक है । लॉक डाउन के कारण सभी दुकाने बन्द है ऐसे में पूरे शहर में सैकड़ो पत्रकार दैनिक जरूरतों के सामान की पूर्ति के लिए परेशान हो रहे हैं। उनके भी परिवार हैं उनकी भी यही सब मौलिक मूलभूत जरूरतें हैं जिनकी पूर्ति शासन इन दिनों आमजन के लिए कर रहा है।

सभी प्रकार की विषम परिस्थितियों के बीच रहकर भी अपने कर्तव्यों का निर्वाहन हमारे पत्रकार साथी कर रहे है। सरकार व प्रशासन अगर चाहे तो सभी थाना स्तर पर या जनसंपर्क विभाग से सभी पत्रकारों सूची से चिन्हित कर  सूची के अनुसार वार्ड वाईज स्थानीय पुलिस व नगर निगम के सहयोग से सभी मेहनतकश पत्रकारों के घर तक राहत आसानी से पहुचा सकती है।


                                                                                               संपादक : रवि यादव                                                                                                      G.News 24