रद्द करना पड़ा भजन कीर्तन

ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर भीड़ ने की पत्थरबाजी




ननकाना साहिब। पाकिस्तान के स्थित ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर शुक्रवार को सैंकड़ों की भीड़ ने पत्थरबाजी की है जिस वजह से ननकाना साहिब में पहली बार भजन कीर्तन को रोकना पड़ा है। शुक्रवार को जुम्मे की नवाज के बाद भीड़ ने गुरुद्वारे को घेर लिया और वहां से कट्टरपंथी सिखों को भगाकर शहर का नाम गुलाम अली मुस्तफा नगर रखने की धमकी दी।

मिली जानकारी के मुताबिक उग्र भीड़ ने गुरुद्वारे को तोड़ने की भी धमकी दी है। शुरुआती रिपोर्ट्स के मुताबिक, गुरुद्वारे को घेरकर पत्थरबाजी करने वाली भीड़ का नेतृत्व मोहम्मद हसन नाम के व्यक्ति का परिवार कर रहा है। 

मोहम्मद हसन वही व्यक्ति है जिसने गुरुद्वारे के ग्रंथी की बेटी का अपहरण करके उसका धर्मांतरण किया था। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें प्रदर्शनकारी कह रहे हैं कि ननकाना साहिब में कोई सिख नहीं बचेगा। ननकाना साहिब पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त में स्थित एक शहर है। इसका नाम सिखों के पहले गुरू, गुरू नानक देव जी के नाम पर पड़ा है। 

गुरु नानक जी का जन्म स्थान होने के कारण यह स्थान सिख मत के सबसे पवित्र स्थलों में से एक है। जहां एक भव्य एवं दिव्य गुरुद्वारा है। सिखों पहले गुरू को दुनियाभर से हजारों हिन्दू, सिख गुरु पर्व से कुछ दिन पहले ननकाना साहिब पहुंचते हैं और दस दिन यहां रहकर विभिन्न समारोहों में भाग लेते हैं।