15 विधायकों का टिकट...

AAP ने दिल्ली चुनाव में इन उम्मीदवारों पर खेला दांव 


दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को सभी 70 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया है. पार्टी ने 46 मौजूदा विधायकों पर फिर से भरोसा जताया है. विशेष बात यह है कि AAP ने पिछले साल लोकसभा चुनाव में हार का सामना कर चुके  3 उम्मीदवारों को विधायकी का उम्मीदवार बनाया है.

पहले कयास लगाए जा रहे थे कि आम आदमी पार्टी लोकसभा चुनाव लड़ चुके उम्मीदवारों को विधानसभा चुनाव के लिए टिकट नहीं देगी. मगर पार्टी की सूची में तीन ऐसे नाम सामने आए हैं जो दिल्ली में पिछले लोकसभा चुनाव में उतरे थे और उन्हें हार का सामना करना पड़ा था.

दिलीप पांडे को पार्टी ने तिमारपुर सीट से मैदान में उतारा है. वह 2019 लोकसभा चुनाव में उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से उतरे थे. इसी तरह लोकसभा चुनाव में पूर्वी दिल्ली से उम्मीदवार रहीं आतिशी को कालकाजी विधानसभा सीट से उतारा गया है. दक्षिणी दिल्ली सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ चुके राघव चड्ढा को राजेंद्र नगर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया गया है.

दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए मंगलवार को जारी सभी 70 सीटों के लिए आम आदमी पार्टी के उम्मीदवारों की सूची में मौजूदा 15 विधायकों के टिकट काटे गए हैं. उनकी जगह नए उम्मीदवारों को मैदान में उतारा गया है. हालांकि इसमें कुछ नाम वैसे हैं, जो पहले ही पार्टी से बगावत कर चुके हैं.

इस बार माना भी जा रहा था कि इनका टिकट काट दिया जाएगा. आम आदमी पार्टी ने तिमारपुर से मौजूदा विधायक पंकज पुष्कर का टिकट काटकर दिलीप पांडे को उम्मीदवार बनाया है. दिलीप पांडे उत्तर पूर्वी दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़ चुके हैं. वहीं बवाना से मौजूदा विधायक रामचंद्र का टिकट काटकर जय भगवान उपकार को उम्मीदवार बनाया गया है. मुंडका से सुखबीर दलाल का टिकट काटकर धर्मपाल लाकड़ा को उम्मीदवार बनाया गया है.

खाली सीट पर नए उम्मीदवार

1. सुल्तानपुर माजरा से मुकेश कुमार अहलावत

2. रोहिणी से राजेश नामा बंसी वाला

3. चांदनी चौक से प्रह्लाद सिंह साहनी

4. राजौरी गार्डन से धनवती चंदेला

5. बिजवासन से बीएस जून

6. विश्वास नगर से दीपक सिंगला

7. गांधीनगर से नवीन दीपू चौधरी

8. मुस्तफाबाद से हाजी यूनुस

9. करावल नगर से दुर्गेश पाठक