जंगल में रहने को मजबूर...

मुस्लिम समुदाय' ने 50 दलितों को गांव से भगाया



झारखंड l झारखंड के पलामू में दलित वर्ग के लोगों ने आरोप लगाया है कि भीड़ ने उनके घरों को तोड़ दिया और उनका सामान जबरन छतरपुर के पास एक जंगल में ले जाया गया। इस समाज के एक दर्जन लोगों ने पुलिस में शिकायत कर न्याय की गुहार लगाई है। पलामू में अब दलित परिवार को भगाया गया  |  पुलिस ने मामले दर्ज कर जांच किया शुरू कर दी है l 

दलित वर्ग के लगभग 50 लोग अपने गांव को छोड़कर जंगल में रहने को मजबूर हैं। दलित समाज के लोगों ने आरोप लगाया है कि उनके गांव से मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मारपीट करके भगा दिया है। इसे लेकर पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई गई है। इस मामले पर राज्यपाल रमेश बैस ने रिपोर्ट भी मांगी है।

झारखंड पुलिस ने मंगलवार को बताया कि इस बारे में सूचना मिलने पर मेदिनीनगर के एसडीओ राजेश कुमार शाह और एसडीपीओ सुजीत कुमार मरुमातू गांव से एक किलोमीटर दूर टोंगरी पहाड़ी इलाके में पहुंचे और वहां कानून व्यवस्था बनाने के लिए डेरा डाले हुए हैं। पुलिस के अनुसार इस घटना के संबंध में 12 लोगों के खिलाफ नामजद और 150 अज्ञात लोगों के खिलाफ फौजदारी का मामला दर्ज किया गया है। इस बीच घटना का संज्ञान लेते हुए झारखंड के राज्यपाल रमेश बैस ने घटना पर चिंता प्रकट की है।