शिवराज व केंद्रीय मंत्री गडकरी और सिंधिया ने ...

एलिवेटेड रोड सहित 1128 करोड़ के विकास कार्यों की रखीआधारशिला 

ग्वालियर l मुख्यमंत्री शिवराज सिंह एवं केंद्रीय मंत्रीगण नितिन गडकरी नरेन्द्र सिंह तोमर और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बटन दबाकर एलिवेटेड रोड सहित 1128 करोड़ के विकास कार्यों की आधारशिला रखी। इस माैके पर सीएम ने कहा कि साैगातों की वर्षा के साथ ही बदरा भी खूब बरस रहे हैं। उन्होंने कहा कि नितिन जी आपके स्वागत में पंखा भी खुशी में नाच उठा। आज केंद्रीय मंत्री गडकरी ने 1128 करोड़ की साैगातें दी हैं। उन्होंने कहा कि 15 माह में कांग्रेस ने ग्वालियर अंचल के साथ अन्याय किया है।

शहर को 1128 करोड़ की साैगात देने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी आज ग्वालियर पहुंचे। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी माैजूद थे। भाजपा नेताओं ने केंद्रीय मंत्रियों का स्वागत किया। केंद्रीय मंत्री गडकरी शहर में एलिवेटेड रोड सहित लगभग 1128 करोड़ रुपये की लागत की 222 किलोमीटर लंबी सात सड़क परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया । साथ ही ग्वालियर में बनने जा रहे अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल की आधारशिला भी रखी। 

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंच से शहर विकास की कुछ योजनाओं की मांग भी केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के सामने रखी। उन्होंने केंद्रीय मंत्री गडकरी से मांग की है कि 11 किमी लंबे एलिवेटेड रोड के दूसरे भाग को भी जल्द से जल्द स्वीकृति दे दी जाए। साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से चंबल नदी से पानी लाने के प्रोजेक्ट के लिए राशि स्वीकृति की मांग की। वहीं सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि गडकरी जो कहते हैं वो करते हैं इसके लिए वे जाने जाते हैं। उन्होंने दोनों केंद्रीय मंत्रियों को ग्वालियर का सपूत बताते हुए नए सिक्स लेन हाईवे को लेकर केंद्रीय मंत्री गडकरी का धन्यवाद भी दिया।


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्वालियर शहर को आधुनिक शहर बनाने में कड़ी में रॉक्सी पुल से महाराज बाड़ा तक और हजीरा क्षेत्र में फ्लाई ओवर बनाए जायेंगे। उन्होंने कहा कि एलीवेटेड रोड के द्वितीय चरण के काम और फूलबाग से किले तक के रोप वे के निर्माण में भी राज्य सरकार हर संभव सहयोग करेगी।

इसके पश्चात अपने उद्वोधन के दौरान  केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ने ग्वालियर में मध्यप्रदेश के लिये सौगातों की झड़ी लगा दी। उन्होंने घोषणा की कि ग्वालियर में स्वर्ण रेखा नदी पर एलीवेटेड रोड़ के प्रथम चरण के साथ ही दूसरे चरण के टेण्डर की प्रक्रिया भी शुरू हो जायेगी। उन्होंने कहा कि स्वर्ण रेखा पर एलीवेटेड रोड़ निर्माण से ग्वालियर के विकास का नया अध्याय शुरू होगा। श्री गड़करी ने ग्वालियर से इटावा तक फोरलेन सड़क निर्माण की घोषणा भी की। केन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी ग्वालियर शहर में विकास के नए आयाम के रूप में जुड़ने जा रहे एलीवेटेड रोड़, अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल और 122 किलोमीटर लम्बी 7 सड़कों सहित लगभग 1199 करोड़ रूपए लागत के विकास कार्यों के शिलान्यास एवं लोकार्पण समारोह को संबोधित कर रहे थे।

नेकेन्द्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने समारोह में घोषणा की कि ग्वालियर शहर में स्वर्ण रेखा पर दोनों चरणों का एलीवेटेड रोड़ अत्याधुनिक मलेशिया से आई नई तकनीक के साथ बनाया जायेगा। एलीवेटेड रोड़ के दोनों चरण के टेण्डर एक साथ निकाले जायेंगे। उन्होंने कहा कि 6 लेन के आगरा – ग्वालियर ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे, यमुना एक्सप्रेस-वे से जुड़ेगा और मात्र तीन घंटे में दिल्ली से ग्वालियर की दूरी तय की जा सकेगी। लगभग 87 किलोमीटर लम्बे इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण लगभग 2500 करोड़ रूपए की लागत से होगा। उन्होंने घोषणा की कि आगरा-ग्वालियर एक्सप्रेस-वे के किनारे लॉजिस्टिक पार्क की स्थापना भी की जायेगी। श्री गड़करी ने यह भी घोषणा की कि ग्वालियर-आगरा के पुराने मार्ग का जीर्णोद्धार कर फोरलेन सीमेंट कंक्रीट मार्ग बनाया जायेगा, इसके आदेश जारी कर दिए गए हैं।

केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी ने घोषणा की कि ग्वालियर-भिण्ड–इटावा राष्ट्रीय राजमार्ग 1200 करोड़ रूपए की लागत से फोरलेन मार्ग में तब्दील किया जायेगा। केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर की एक और माँग को पूरा करते हुए श्री गड़करी ने मुरैना शहर में बैरियर चौराहे से रेलवे स्टेशन तक फ्लाईओवर बनाने की घोषणा भी की। ग्वालियर शहर में फूलबाग से किले तक 120 करोड़ रूपए की लागत से रोप-वे का निर्माण कराया जायेगा। ग्वालियर में जलालपुर–बरौआ के बीच नया रेलवे ओवरब्रिज बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान और प्रदेश के राज्य मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने इसके लिए केन्द्रीय मंत्री श्री गड़करी का ध्यान आकर्षित किया था।

सीआरआइएफ (केंद्रीय सड़क अधोसंरचना निधि) योजना के तहत लगभग 447 करोड़ रुपये की लागत से ग्वालियर शहर में स्वर्ण रेखा नदी पर ट्रिपल आइटीएम कालेज के समीप से महारानी लक्ष्मीबाई प्रतिमा तक बनने जा रहा फोरलेन एलिवेटेड सड़क मार्ग शामिल है। साथ ही स्मार्ट सिटी द्वारा हजीरा थाने के समीप लगभग 25 एकड़ रकवे में 64 करोड़ 22 लाख रुपये की लागत से बनाए जाने वाले आइएसबीटी (अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल) का शिलान्यास भी किया ।



सौगातों की झड़ी लगाने पर बिजली मंत्री ने दंडवत होकर जताया गड़करी का आभार

ट्रिपल आईटीएम के पास आयोजित समारोह में केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा ग्वालियर-चंबल संभाग के लिए सौगातोें की झड़ी लगाने पर प्रदेश के बिजली मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने मंच पर गडकरी के सामने दंडवत होकर उनके प्रति आभार जताया। वहीं जिले के प्रभारी मंत्री तुलसीराम सिलावट ने आज ग्वालियर चंबल संभाग में करोड़ों रुपए की सौगात प्रदान करने एवं ग्वालियर के विकास को तेज गति प्रदान करने के लिए अनेक महत्वपूर्ण विकास कार्यों की स्वीकृति देने हेतु केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति आभार व्यक्त किया।

इसके साथ ही प्रभारी मंत्री सिलावट ने ग्वालियर अंचल के विकास के लिए निरंतर प्रयास एवं सहयोग करने वाले केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, सांसद एवं जनप्रतिनिधियों का धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम के सफल आयोजन एवं सभी के सहयोग के लिए जिला प्रशासन पुलिस प्रशासन एवं नगर निगम प्रशासन का भी धन्यवाद ज्ञापित किया है।

बंगाल की खाड़ी का कम दवाब का क्षेत्र बुंदेलखंड में वर्षा करते हुए गत दिवस ग्वालियर चंबल संभाग के ऊपर पहुंच गया। इस कारण दोनों संभाग के कुछ हिस्सों में भारी वर्षा भी दर्ज हुई है, लेकिन ग्वालियर में बीती रात से रिमझिम वर्षा का दौर जारी रहा। बादलों के चलते धूप नहीं निकली। रुक-रुक कर तेज वर्षा भी हुई। वर्षा की गति धीमी थी, लेकिन रिमझिम वर्षा ने मौसम को सुहाना कर दिया। सुबह से झमाझम वर्षा का दौर जारी हो गया, जिससे शहर की सड़कों पर जलजमाव हुआ। लेकिन वर्षा ने आयोजन पर पानी फेर दिया है। हालत ये है कि मैदान में बरसात के कारण कीचड़ हो गई है । इस दौरान आयोजन स्थल के एक गेट पर ट्रक फंस गया जिसे काफी मशक्कत के बाद जेसीबी की सहायता से निकाला जा सका। हालांकि कीचड़ एवं पानी भरा होने के कारण आयोजन स्थल तक पहुंचना मुश्किल हो रहा था। जिससे अफसरों के माथे पर चिंता की लकीरें खिंच गई है। मैदान पर मिट्टी डालकर और जेसीबी की सहायता से सुखाने का प्रयास किया l जगह जगह कीचड़ व पानी जमा है। अफसरों ने मिट्टी डालकर जेसीबी की सहायता से मैदान को सही करने के पूरे प्रयास किए लेकिन फिर भी परेशानी बनी हुई है। वहीं कार्यक्रम का समय दोपहर 3.30 बजे का था और लोग भी वहां पहुंच गए थे लेकिन मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री देरी से पहुंचे। लोग शाम को 5 बजे तक इंतजार करते रहे लेकिन जब कार्यक्रम शुरू नहीं हुआ तो कई लोग वापस लाैट गए। मंच पर पहले परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत जिले के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावटए मंत्री भारत सिंह कुशवाह और गोपाल भार्गव पहुंचे फिर शाम 5.30 बजे मुख्यमंत्री और तीनों केंद्रीय मंत्री आयोजन स्थल पर पहुंचे।

आयोजन में लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव, जिले के प्रभारी एवं जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत, पंचायत एवं ग्रामीण मंत्री महेन्द्र सिंह सिसौदिया, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, उद्यानिकी एवं खाद्य प्र-संस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सिंह कुशवाह, सांसद ग्वालियर विवेक नारायण शेजवलकर, सांसद भिण्ड श्रीमती संध्या राय, महापौर डॉ. शोभा सतीश सिकरवार, बीज एवं फार्म विकास निगम के अध्यक्ष मुन्नालाल गोयल, नगर निगम सभापति मनोज सिंह तोमर, पूर्व विधायक मदन कुशवाह तथा कमल माखीजानी व कौशल शर्मा सहित जन-प्रतिनिधिगण मंचासीन थे।