174 बैंक खातों का पता चला, 2.03 करोड़ रुपए के एफडीआर मिले...

बिशप पीसी सिंह चार दिन की पुलिस रिमांड पर

जबलपुर। करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में फंसे द बोर्ड आफ एजुकेशन चर्च आफ नार्थ इंडिया जबलपुर डायोसिस के चेयरमैन बिशप पीसी सिंह को जर्मनी से देश लौटते ही नागपुर एयरपोर्ट से ईओडब्ल्यू ने हिरासत में ले लिया है। आरोपित बिशप से ईओडब्ल्यू की टीम ने पूछताछ शुरू कर दी है। अब तक की जांच व पूछताछ में कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए हैं। पूर्व में जप्त नकदी, जेवर के अलावा बिशप पीसी सिंह के 10 सावधि जमा (एफडीआर) और मिले हैं, जिनमें 2 करोड़, 2 लाख, 95 हजार 190 रुपए जमा है। इसके अलावा उसके विभिन्न बैंकों में कुल 174 खातों का पता चला है, जिनमें से पीसी सिंह के स्वयं के नाम पर, उसके परिजनों एवं संस्थाओं के 128 बैंक खाते हैं। जबकि 46 खाते शैक्षणिक संस्थाओं के नाम पर हैं l प्रारंभिक पूछताछ के बाद ईओडब्ल्यू ने बिशप पीसी सिंह की प्रकरण में विधिवत गिरफ्तारी भी कर ली है। उसे सोमवार को न्यायालय में पेश कर चार दिन की पुलिस रिमांड पर लेकर आगे की पूछताछ की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक बिशप पीसी सिंह को जर्मनी से देश वापस अपने पर पकड़ने के लिए ईओडब्ल्यू ने पहले से ही तैयारी कर ली थी। डीजी ईओडब्ल्यू अजय शर्मा के निर्देश पर एडीजी ईओडब्ल्यू मो.शाहिद अबसार ने सीआइएसएफ सहित अन्य एजेंसियों से समन्वय बनाया। आरोपित बिशप के देश लौटने की सूचना मिली। इसके बाद ईओडब्ल्यू अधिकारियों ने एयरपोर्ट में तैनात सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों को सतर्क किया। बिशप पीसी सिंह जर्मनी से दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचा। वहां से विमान में बैंगलुरु होते हुए नागपुर आया। ईओडब्ल्यू सहित तमाम एजेंसियां उस पर नजर रखे हुए थीं। जैसे ही वह नागपुर एयरपोर्ट पर विमान से उतरा, उसे सीआइएसएफ के सहयोग से हिरासत में ले लिया गया। बिशप पीसी सिंह को अभिरक्षा में लेकर ईओडब्ल्यू की टीम सोमवार सुबह करीब छह बजे जबलपुर पहुंची। यहां ईओडब्ल्यू कार्यालय में उससे पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस अधीक्षक ईओडब्ल्यू जबलपुर देवेंद्र प्रताप सिंह राजपूत ने बताया कि बिशप पीसी सिंह को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई है। पूछताछ में कई बिंदुओं पर जानकारी जुटाई जा रही है।

बताया जा रहा है कि पीसी सिंह के खिलाफ जांच का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। नए-नए खुलासे होने के कारण अब ईओडब्ल्यू के अलावा अन्य राष्ट्रीय जांच एजेंसियां भी सक्रिय हो गई हैं। ईओडब्ल्यू की टीम के साथ अब अन्य जांच एवं खुफिया एजेंसियों के अधिकारी भी बिशप से पूछताछ कर रहे हैं। जिससे इस मामले में अब और बड़े घोटाले एवं खुलासे हो सकते हैं। जर्मनी गए बिशप पीसी सिंह के घर में ईओडब्ल्यू की टीम ने गुरुवार को छापा मारा था। घर से एक करोड़ 65 लाख 14 हजार रुपये नकद, 118 पाउण्ड, 18352 यूएस डालर, 80 लाख 72 हजार रुपये के सोने के दो किलो वजनी जेवरात सहित 17 संपत्तियों के दस्तावेज और 48 बैंक खातों के संबंधित दस्तावेज जब्त किए गए थे।